मास्क के कारण 4 दुकानों पर लटके ताले, मास्क न लगाने वालों को भेजा खुली जेल - Shivpuri News

शिवपुरी। जिले में कोरोना के बढ़ते केसों को लेकर प्रशासन की चिंता बढ़ गई और इसे लेकर प्रशासन ने अब सख्ती अपनाना शुरू कर दिया है। आज सुबह माधव चौक पर पुलिस और प्रशासन के अधिकारी और कर्मचारियों के साथ नगर पालिका अमले ने पैदल घूमकर बाजारों का हाल जाना। कोर्ट रोड पर स्थित अशोका स्टेशनरी और ग्वालियर शूटिंग की दुकानों और सब्जी मंडी की दो दुकानों पर कोविड की गाईडलाईन का पालन न करने पर दुकानों को सील कर दिया है।

साथ ही कई दुकानदारों के चालान भी किए गए और बाजार में बिना मास्क के घूम रहे आधा सैकड़ा से अधिक लोगों को पकड़कर जेल वैन में बैठाकर उन्हें जेल भेजने की कार्यवाही की। उन लोगों को पुलिस परेड गा्रउंड में बनाई खुली जेल में रखा गया और बाद में मुचलका लेकर उन्हें छोड़ दिया गया।

कार्रवाई के लिए जुटी टीम, गमछे वालों को भी नहीं बख्शा

प्रशासनिक दल ने बाइकों और पैदल घूम रहे उन गमछाधारियों को भी कार्रवाई की जद में लिया जो मास्क छोड़कर गमछा लपेटकर घूम रहे थे। इस दौरान एडीएम आरएस बालौदिया, एएसपी प्रवीण भूरिया, एसडीएम अरविंद वाजपेयी, एसडीओपी सुधीर सिंह, फिजीकल थाना प्रभारी कृपाल सिंह राठौर, कोतवाली टीआई बादाम सिंह यादव सहित यातायात पुलिस और नपा के अधिकारी और कर्मचारी मौजूद रहे। प्रशासनिक अमला सुबह माधव चौक पर एकत्रित हुआ। जहां दुकानों पर स्थिति का जायजा लिया।

बिना मास्क के मिले दुकानदार और कर्मचारी

एचडीएफसी बैंक के सामने एपीएस मोबाइल के शोरूम के कर्मचारी बिना मास्क के मिले। साथ ही दुकान में सोशल डिस्टेंसिंग का भी कोई पालन नहीं हो रहा था। प्रशासन ने अशोका स्टेशनरी और ग्वालियर शूटिंग की दुकान पर जाकर देखा तो वहां बड़ी संख्या में भीड़ लगी हुई थी और किसी के यहां भी मास्क नहीं लगा था। जिस पर प्रशासन ने उक्त दोनों दुकानों को सील करने की कार्रवाई की।

इसके बाद प्रशासनिक अमला आगे बढ़ा और भार्गव इलेक्ट्रिक साउंड की दुकान पर दुकान संचालक बिना मास्क के बैठा हुआ था। जिस पर चालानी कार्रवाई की। इसके बाद गुरूद्वारा के पास मोटर पाट्र्स मार्केट मेें टीम पहुंची। जहां दुकानदारों को समझाईश दी साथ ही उन लोगों को पकड़कर पुलिस बैन में बैठाया, जो बिना मास्क के थे। जिस पर एडीएम आरएस बालौदिया, एएसपी प्रवीण भूरिया और एसडीएम अरविंद वाजपेयी ने नगर पालिका कर्मी को बुलाकर दुकानदार का चालान काटने का निर्देश दिया।

गमछाधारी आए कार्रवाई की जद में

यातायातकर्मी और नपाकर्मियों ने रास्ते में बाइक पर जा रहे उन लोगों को भी रोककर चालान काटे जो मास्क की जगह गमछा बांधकर भ्रमण कर रहे थे। एसडीएम अरविंद बाजपेयी ने दुकानदारों से मास्क के साथ-साथ दुकानों के आगे गोले लगाने के भी निर्देश दिए और उनसे कहा कि अगर कल उन्हें जहां गोले नहीं दिखे तो उनकी दुकानें सील कर दी जाएंगी और पांच दिन तक वह दुकान नहीं खोल सकेंगे।

बैंक में गोले और सेनेटाइजर की करें व्यवस्था

एसडीएम और एएसपी ने बैंकों में जाकर भी स्थिति का जायजा लिया। जहां बैंक मैनेजरों को बैंकों के अंदर गोले लगाने के निर्देश दिए। साथ ही स्टाफ और बैंकों मेें आने वाले ग्राहकों को मास्क व सेनिटाईजर की व्यवस्था करने के लिए कहा।

9 बजे कराया बाजार बंद तो रूस्ट हुए व्यापारी

नाईट कफ्र्यू के नाम पर पुलिस ने रविवार की रात 10 बजे के स्थान पर 9 बजे ही बाजार बंद करा दिया। जिससे दुकानदारों में रोष है। दुकानदारों का कहना है कि दिनभर बाजारों मेें जमकर भीड़भाड़ हो रही है और राजनैतिक कार्यक्रमों में भी भीड़ पर कोई रोक नहीं है। उस दौरान कोरोना नहीं फैलता।

लेकिन रात में जब भीड़ नहीं रहती और लोग ठहलने के लिए घर से निकलते हैं, वह समय उनकी दुकानदारी का रहता है। उस समय बाजार बंद कराना कहां तक उचित है। प्रशासन ने नाईट कफ्र्यू जैसा कोई आदेश नहीं दिया है। हालांकि रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक बाजार बंद कराने के लिए मौखिक रूप से कहा है। लेकिन पुलिसकर्मियों ने 10 बजे के स्थान पर 9 बजे ही बाजार बंद करा दिया।