कितने सुरक्षित हैं अस्पताल में मरीज, लटक रहे हैं मधुमक्खियों के छत्ते, हो रहे मरीज परेशान - Shivpuri News

शिवपुरी। जिला अस्पताल में इन दिनों मधुमक्खियों ने अपना डेरा जमा लिया है और यह मरीजों को आए दिन काटकर घायल कर रही है। जी हां यह नजारा देखा गया है जिला अस्पताल में। जिला अस्पताल के तीसरी मंजिल पर बने मेडीकल वार्ड में मधुमक्खियों ने अपना डेरा जाम लिया है और यह आए दिन वार्ड कें अंदर आ जाती है जिससे मरीजों को परेशानी का सामना करना पडता है कई बार तो यह मरीजों को तक अपना निशाना बना लेती है। अब अस्पताल प्रबंधन इन छत्तों को हटाने के लिए पत्राचार करने की बात कह रहा है।

जिला अस्पताल के नए भवन में तीसरी मंजिल पर मेडीकल वार्ड का संचालन किया जा रहा है और इस वार्ड में मरीज भी भर्ती हैं लेकिन मरीज परेशान है क्योकि वह आए दिन शिकार हो रहे हैं इन मधुमक्खियों के जिनके डंक से उन्हें असहनीय दर्द तो होता ही है साथ ही उनके अटेंडर भी कई बार इनके हमले में घायल हो चुके हैं जिसकी शिकायत उनके द्वारा कई बार अस्पताल प्रबंधन तक से की है।

अधिकारी बोल लिखा है वन अमले को पत्र

जिला अस्पताल के सिविल सर्जन डॉ पीके खरे का कहना है कि इन मधुमक्खियों के आतंक के बारे में उन्हें भी जानकारी है उनके द्वारा वन अमले को पत्र लिखकर छत्ते को हटाने के लिए कहा गया है।

वन अमले पर नहीं एक्सपर्ट

इधर इन मधुमक्खियों के छत्ते को हटाने के लिए वन अमले पर कोई एक्सपर्ट नहीं हैं ऐसे में पुराने देशी जुगाड कंडी का धुंआ कर किसी तरह से छत्तों को हटाया जाता है लेकिन कहीं इन मधुमक्खियों ने लोगों पर हमला कर दिया तो बवाल हो जाएगा। यहीं कारण कि अब तक वन अमले ने भी इन्हें हटाने का प्रयास नहीं किया है।

आफत में मरीजों की जान

जिला अस्पताल में इलाज कराने आए इन मरीजों की जान भी आफत में हैं उनका कहना है कि इन मधुमक्खियों के कारण उन्हें आए दिन परेशानी का सामना करना पडता है जिसके चलते वह लोग परेशान हैं फिर भी वह दहशत के साए में अपना इलाज कराने को मजबूर हैं।