धोखाधड़ी कर बेच दी पति को जमीन, अब पत्नी लगा रही अधिकारियों के यहां गुहार - Shivpuri News

शिवपुरी। शहर सहित अंचल में जमीनों की धोखाधडी के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। ऐसे में फर्जी अनुबंध पत्र कर लोगों को फर्जी तरीके से जमीन बेचकर उन्हें लाखों का चूना लगाया जा रहा है। ऐसा ही मामला करैरा में सामने आया है जहां एक महिला के पति को लाखों रूपए का जमीन के नाम पर ध्रोखाधडी कर चूना लगाया गया और अब पत्नी अधिकारियों के यहां फरियाद लगा रही है।

तहसील के पीछे की जमीन बेची थी आरोपियों ने

फरियादी हंसा गोयल ने बताया कि सर्वे नम्बर 1757/2 रकवा 0.177 हैक्टेयर जमीन जो कि पुलिस थाना तहसील करैरा के पीछे की जमीन का विक्रय करने का अनुबंध दिनांक 15 जनवरी 2018 को श्यामलाल, अमर सिंह, मनका कुशवाह मनीराम एवं रामस्वरूप पुत्रगण स्व. मनका कुशवाह निवासीगण पानी की टंकी के पास करैरा द्वारा अनुबंधित भूमि पर भूखण्ड बनाकर अवैधानिक रूप से विक्रय करने लगे हैं।

आवेदिका हंसा गोयल के पति को विक्रय पत्र संपादित ना कराकर मेरे पति के साथ धोखाधड़ी कर अवैधानिक लाभ प्राप्त कर मेरे पति को आर्थिक नुकसान पहुंचाया जा रहा हैं। जिसकी शिकायत करैरा थाने से लेकर पुलिस अधीक्षक तक की जा चुकी हैं, लेकिन आरोपियों के खिलाफ अभी तक कोई कार्यवाही नहीं की गई।

181 पर भी शिकायत

हंसा का कहना है कि मुख्यमंत्री द्वारा संचालित 181 पर शिकायत रजिस्ट्रड हैं तथा जनसुनवाई में भी आवेदन दे चुकी हैं। हंसा गोयल ने जानकारी देते हुए बताया कि श्यामलाल, अमर सिंह, मनीराम, रामस्वरूप के स्वामित्व एवं आधिपत्य की भूमि प्रार्थिया के पति आनंद गोयल अपने स्वामित्व एवं आधिपत्य की भूमि सर्वे क्रमांक 1757/2 रकवा 0.480 हैक्टेयर एवं भूमि सर्वे क्रमांक 1530/1 रकवा 0.177 हैक्टेयर पुलिस थाना करैरा के पीछे तहसील करैरा में स्थित हैं जिसको दो गवाह के समक्ष 250000 रूपए प्रार्थिया के पति से बतौर एडवांस प्राप्त कर लिखत अनुबंध पत्र 15 जनवरी 2018 को संपादित किया गया हैं।

दूसरे खरीदार को भी बेच दी जमीन

हंसा का आरोप है कि विक्रेताओं ने धोखाधडी कर उनके पति से तो पैसा लिया ही साथ ही दूसरों को भी जमीन विक्रय कर दी हैं, इसके बाद श्यामलाल कुशवाह, रामस्वरूप कुशवाह द्वारा अन्य लोगों को विक्रय पत्र प्रार्थिया के पते के बगैर सहमति के बिना भूमि से भूखण्ड बनाकर विक्रय कर दिए गए हैं।

धोखाधडी का हो केस दर्ज

हंसा ने एसपी राजेश चंदेल के यहां गुहार लगाकर कहा कि उनके पति के दस्तावेजों का संपूर्ण अवलोकन कर श्यामलाल, अमर सिंह, मनीराम, रामस्वरूप पुत्रगण स्व. मनका कुशवाह निवासी रेस्ट हाउस के पीछे पानी की टंकी के पास करैरा के विरूद्ध वैधानिक जांच कर संबंधित के विरूद्ध धोखाधडी का केस दर्ज किया जाए।