हरिजन एक्ट और दुष्कर्म की धमकी देकर महिला व उसका साथी कर रहे ब्लैकमेल - Shivpuri News

शिवपुरी। हरिजन एक्ट और महिलाओं के लिए बने कानूनों का महिलाएं ही दुरूपयोग कर रही है। ऐसे एक दो नहीं जिले में कई मामले सामने आ चुके हैं। बावजूद इसके अब भी लोगों केा झूुठे केसों में फंसाने की धमकी देकर लोगों को ब्लैकमेल किया जा रहा है। ऐसा ही मामला गोपालपुर गांव में सामने आया है जहां परचूनी की दुकान चलाने वाले दुकानदार को एक हरिजन महिला द्वारा उधारी के पैसे तो दिए नहीं जा रहे हैं और उल्टे दुकानदार को हरिजन एक्ट सहित दुष्कर्म के झूठे केस में फंसाने की धमकी दी जा रही है।

जानकारी के अनुसार राकेश पाठक पुत्र दामोदर पाठक ने एक शिकायती आवेदन एसपी राजेश चंदेल को सौंपकर बताया कि उनकी गोपालपुर गांव में ही किराने की दुकान है, जिस पर बीते लंबे समय से गांव के ही शिकारीपुरा में निवासरत मंजू मोगिया पत्नि रामबाबू मोगिया का लेनदेन चलता था। जिसके चलते वह दुकान से उधार सामान ले जाती थी। 4 माह पूर्व महिला मंजू मोगिया दुकान पर आई और उधार में चना मांगा जिसपर से फरियादी ने पुराने रूपए लगभग 42 हजार रूपए के लगभग होने की कहा और बताया कि पुराने रूपए तो दे दो। उसके बाद उक्त महिला अपने घर चली गई।

फोन लगाया और दुकानदार को धमकाकर मांगे 2 लाख

राकेश ने बताया कि तीन दिन पूर्व महिला मंजू मोगिया के साथी जितेन्द्र उर्फ पेटू जाटव ने उन्हें फोन लगाकर कहा कि मंजु उसकी रिपोर्ट करने जा रही है। उसने उससे छेडछाड की है। जिस पर राकेश ने झूठा आरोप होने के चलते कहा कि मंजू तो बीते 4 माह से आई ही नहीं है। उसके बाद मंजू का साथी दुकान पर आया और बोला की 2 लाख रूपए की कल तक व्यवस्था कर लो अन्यथा तुम्हारी रिपोर्ट कर देंगे।

दुकानदार नहीं माना तो मांगे 50 हजार

राकेश का कहना है कि जब उन्होंने महिला और उसके साथी को पैसे देने से इंकार कर दिया तो उन्होंने फोन लगाकर कहा कि तुम 50 हजार रूपए दे दो और यह मामला निपट जाएगा। परंतु फिर फरियादी ने कहा कि मेें पैसे किस बात के दूं, तो लास्ट में आरोपी ने कहा कि तुम पुराने पैसे मांफ कर दो और मंजू को 5 हजार रूपए दे दो मंजू सुबह आएगी। उसके बाद आज सुबह मंजू अकेली दुकानपर आई और 10 हजार की मांग करने लगी।

महिला की चाचाी बोली करती है लोगों को ब्लैकमेल

एसपी के पास आए ग्रामीणों ने बताया कि राकेश एक दुकानदार है और वह दुकान च लाकर अपने परिवार का भरण पोषण करता है। गांव वालों ने कहा कि मंजू इसी तरह से लोगों को ब्लैकमेल कर पैसा लेती है। मंजू की चाची भी दुकानदार के साथ आई थी और मंजू की चाची अजुद्धी का कहना है कि मंजू इसी तरह से आए दिन लोगों को ब्लैकमेल करती है। इतना ही नहीं अभी तक वह गांव के कई लोगों को ब्लैकमेल कर चुकी है। ग्रामीण बोले कि जीतेन्द्र जाटव् और मंजू साथ में मिलकर लोगों को ब्लैकमेल करते हैं जबकि जीतेन्द्र आदतन अपराधी है और उसके विरूद्ध कई केस भी दर्ज हैं।

ASP बोले महिला और साथी पर करो FIR

एएसपी प्रवीण भूरिया से जब ग्रामीणों ने दुकानदार को लेकर बात की और पूरा माजरा उन्हें समझाया कि किस तरह से मंजू और जीतेन्द्र लोगों केा ब्लैकमेल करते हैं तो एएसपी भूरिया ने इस मामले में मंजू और जीतेन्द्र पर एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिए।