विपरित परिस्थितियों में धूल चटाने के लिए ताइक्वांडों के गुरू सिख रही हैं बेटिया - Shivpuri news

शिवपुरी। महिला एवं बाल विकास विभाग नरवर द्वारा अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर ''अपराजिता'' कार्यक्रम के तहत बालिकाओं को आत्मरक्षा हेतु ताइक्वांडों का प्रशिक्षण कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय नरवर में प्रारंभ किया गया। उक्त 15 दिवसीय प्रशिक्षण में इच्छुक प्रशिक्षणार्थी बालिकाओं को किसी भी तरह की अप्रिय घटना से निपटने के लिए ताइक्वांडों (मार्शल आर्ट) श्री पवन शर्मा द्वारा सिखाया जाएगा। इस मौके पर पॉक्सो एक्ट विषय पर विकासखंड स्तरीय कार्यशाला का आयोजन जनपद पंचायत के सभागार में किया गया।

अपराजिता कार्यक्रम के शुभारंभ समारोह की अध्यक्षता रविरमन पाराशर परियोजना अधिकारी द्वारा किया गया। श्री पाराशर द्वारा बालिकाओं को आत्मरक्षा में निपुण होना वर्तमान समय की महती आवश्यता बताया है। बालिकाओं को शिक्षा द्वारा मानसिक रूप से मजबूती के साथ शारीरिक मजबूती को भी अहम बताते हुए उक्त प्रशिक्षण को पूर्ण ईमानदारी एवं लगन के साथ पूर्ण करने हेतु आग्रह किया गया।

शासन की मंशानुरूप लैंगिक अपराधो से संरक्षण अधिनियम 2012 के तहत पॉक्सो एक्ट विषय पर विकासखंड स्तरीय कार्यशाला का आयोजन जनपद पंचायत के सभागार में किया गया। उक्त कार्यशाला में बालक, बालिका के विरूद्ध लैंगिक अपराधों से संरक्षण हेतु पॉक्सों एक्ट की जानकारी उपस्थित विकासखण्ड स्तरीय अधिकारी, कर्मचारियों एवं प्रशिक्षणार्थियों को श्री रविरमन पाराशर परियोजना अधिकारी द्वारा प्रदान की गई।

पॉक्सो एक्ट से सभी बालक एवं बालिकाओं को जागरूक किए जाने हेतु नरवर में संचालित विद्यालयों एवं नवीन महाविद्यालय के प्राचार्य को भी आमंत्रित किया गया तथा विद्यालयों में विद्यार्थियों को पॉक्सो एक्ट के प्रति जागरूक किए जाने की इच्छा जाहिर की गई।

कार्यशाला में शा.क.उ.मा.वि. नरवर की उच्च अंक प्राप्त करने वाली कक्षा दसवीं 03 बालिकाओं को क्रमशः कु. रिया खरे पुत्री श्री सुनील, कु. प्रियंका रावत पुत्री श्री वीरेन्द्र, कु. शिवानी सिकरवार पुत्री श्री रामशंकर तथा कक्षा 12वीं की 03 बालिकाओं को क्रमशः कु. पूजा प्रजापति पुत्री श्री कमल, कु. राधा प्रजापति पुत्री श्री आशाराम, कु. रश्मि कोली पुत्री श्री मुरारीलाल को विधायक प्रतिनिधि श्री श्याम सुंदर गुप्ता द्वारा पुरस्कृत किया गया।
कार्यशाला में प्राचार्य नवीन महाविद्यालय नरवर डॉ. उमेश रानी त्रिवेदी, बीएमओ श्री आर.आर.माथुर, बीआरसीसी प्रतिनिधि श्री राजेन्द्र प्रसाद अग्रवाल, श्री अजय तिवारी, श्री धर्मेन्द्र यादव, श्रीमती अर्चना महाजन, श्रीमती ऊषा नीलिमा वैश्य, श्रीमती कीर्ति वर्मा, श्रीमती निशा सिकरवार, श्रीमती अनीता श्रीवास्तव, श्रीमती माधुरी तिवारी, श्रीमती शोभा अहिरवार, श्री शंकर मौर्य, श्री केदारीलाल आदिवासी तथा स्थानीय आंगनवाडी कार्यकर्ताएं उपस्थित रही।

कार्यशाला के समापन पर श्रीमती अर्चना महाजन द्वारा उपस्थित सम्मानियों का आभार व्यक्त किया तथा विभागीय कर्मचारियों द्वारा पॉक्सो एक्ट का निरंतर प्रचार-प्रसार किए जाने के निर्देश दिये गये।