महिलाओं को तरक्की के समान अवसर मिलने चाहिए डॉ. खान - Shivpuri news

शिवपुरी। महिलाओं को यदि आगे बढने का अवसर दिया जाये तो वह जीवन के हर क्षेत्र में पुरूषों से भी बेहतर कार्य कर सकती है उक्त उद्गार रेडिऐन्ट ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशन्स एवं डून पब्लिक स्कूल की संचालिका डॉ. खुशी खान ने रेडिऐन्ट कैम्पस में आयोजित अंर्तराष्ट्रीय महिला दिवस कार्यक्रम में व्यक्त किये।
उन्होनें कार्यक्रम में जानकारी देते हुए बताया कि वर्तमान में कोरोना महामारी से उभारने में तीन महिलाओं डॉ. ओजलेम तुरेकी, प्रो. साराहा गिलवर्ड, डॉ. किजेमेकिया कोरवेट का महत्वपूर्ण योगदान रहा। जिन्होने कोरोना वायरस के खिलाफ बायोटेक,मोडरना एवं एक्ट्रा जेनिका वैक्सीन का निर्माण किया। आपने महिलाओं को साक्षर करने एवं बराबरी का  अधिकार देने की वकालत की।

कार्यक्रम का मुख्य आर्कषण था कि पूरा कार्यक्रम सिर्फ छात्राओं द्वारा ही संचालित किया गया व सभी प्रस्तुतियां भी छात्राओं की थी। छात्र व पुरूष शिक्षक सिर्फ दर्शक थे। कार्यक्रम की शुरूआत स्टेनो की छात्रा वैशाली एवं ग्रुप द्वारा प्रस्तुत जोशीले गीत "वेखौफ" से हुई उसके पश्चात् पूजा ठाकुर द्वारा महिलाओं पर हो रहे दमन पर प्रभावशाली स्पीच सुनाई गयी। कार्यक्रम में सजल श्रीवास्तव, आकांक्षा एवं मोनिका द्वारा नृत्य प्रस्तुति दी गई व सजल श्रीवास्तव द्वारा मधुर गीत की प्रस्तुति ने सभी का मन मोह लिया।

इनके अलावा आभा चतुर्वेदी, सुजाता, तृप्ति शर्मा, दिया राठौर द्वारा भी कई प्रस्तुतियां दी गई। अंत में कार्यक्रम में श्रेष्ठ प्रस्तुति देने वाली छात्राओं को पुरूस्कृत किया गया व प्रमाण पत्र भेंट किये गये। कार्यक्रम का  संचालन स्टेनो छात्रा तृप्ति शर्मा द्वारा किया गया व कार्यक्रम की सूत्रधार स्टेनो प्रशिक्षक सलोनी झा रही व आभार कम्प्यूटर प्रशिक्षिका श्वेता जैन द्वारा व्यक्त किया गया।