मौत का तांडव दिखाता बाग जलिया बाग था, शहीद दिवस पर शहीदों को दी गई श्रद्धांजलि - Shivpuri News

शिवपुरी। 23 मार्च शहीद दिवस के अवसर पर पाठक मंच ने कवि सम्मेलन आयोजित कर शहीदों को अपनी भावभीनी श्रृद्धांजलि अर्पित की। कवि सम्मेलन मेें मुख्य अतिथि के रूप में भाजपा जिलाध्यक्ष राजू बाथम, एसडीएम शिवपुरी अरविंद वाजपेयी, पर्यटन संघ अध्यक्ष अरविंद तोमर, एसडीओ जल संसाधन विभाग एन के पाराशर, तरुण अग्रवाल, अशोक अग्रवाल, श्रीमती शशि शर्मा, श्रीमती शैलजा लवंगीकर व श्रीमती सुषमा पांडेय उपस्थित रहे।

मंच केंद्र शिवपुरी के संयोजक कवि आशुतोष शर्मा ओज के संचालन भगतसिंह राजगुरु सुखदेव अमर आजाद प्रतापी आज, अंग्रेज हुए थे कंपित जिनसे छोड़ भगे थे तख्तों ताज की पंक्तियों के साथ कवि सम्मेलन का शुभारंभ हुआ। प्रथम कवि के रूप में अजय जैन अविराम ने तन मन धन जीवन अपना, हर कदम राष्ट्रहित धरते है,ये दिव्य दिवाकर वीर पुरुष आत्मा आहूत भी करते है पंक्तियां प्रस्तुत की।

अगले क्रम में संजय शाक्य ने टूटकर डाल से में किधर जाऊँगा, पात हु सूखकर में बिखर जाऊंगा, बंधनो से जो छुटा में इस बार तो,फिर चलेगी हवा में उधर जाऊंगा प्रस्तुत की। उसके बाद कवियित्री उर्वशी गौतम ने खार हिफाजत करते फूलों की अपने,कांटो को ही साथ निभाना होता है प्रस्तुत की।

विकास शुक्ल प्रचंड ने थे भगत बारह वरस के देश के प्रति राग था, मौत का तांडव दिखाता बाग जलिया बाग था,और उधम की रगों में जोश फिर बढऩे लगा,वीर फिर प्रतिकार करने शत्रु पर चढऩे लगा सभी के समक्ष प्रस्तुत की। शरद गोस्वामी ने वहसतें नफऱत जिहालत कत्लोगारत छोड़ दे, अब मेरे प्यारे वतन है से तू अदावत छोड़ दे की प्रस्तुति दी। राकेश सिंह ने कश्मीर हो या कन्याकुमारी या गोहाटी,चंदन से भी बढ़कर है मेरे देश की माटी की प्रस्तुति दी।

सुकून शिवपुरी ने गुमनाम और खामोश पड़े रहते है,बरसात कड़ी धूप सहते है,या दफ्न किताबो में है किरदारे वतन,या बुत बने सड़को पे खड़े रहते है,सभी को सुना मुग्ध किया। अध्यक्षीय कवि के रूप में राकेश मिश्रा ने बलिदान दिवस के अवसर पर ,अब हमसब मिल संकल्प करें,सभी भारत माता की खातिर, निज प्राण दान से नही डरे सुना कार्यक्रम को सम्पन्न किया।

बलिदानियों की बजह से ही हम खुली हवा में सांस ले रहे हैं

सर्वप्रथम वीर भगत सिंह, सुखदेव, राजगुरु के चित्र पर अतिथियों के द्वारा दीप प्रज्वलन पुष्प माला अर्पित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। तत्पश्चात अपने उदबोधन में मुख्य अतिथि भाजपा जिलाध्यक्ष राजू बाथम ने कहा कि वीर बलिदानियों की वजह से ही आज हम खुली हवा में सांस ले पा रहे है,उनके बलिदान की वजह से ही हम स्वतंत्र हुए,उनका पुण्य स्मरण करना हमारी नैतिक जिम्मेदारी है।

एसडीएम शिवपुरी अरविंद वाजपेयी ने इस अवसर पर बोलते हुए कहा कि सकारत्मकता इस समय बेहद आवश्यक है और वह ऐसे कार्यक्रमो से ही बढ़ेगी,महापुरषो की जयंती पुण्यतिथि पर इस तरह के आयोजन से न सिर्फ राष्ट्रभक्ति की भावना प्रबल होती है,वरन बौद्धिक विकास भी होता है,युवाओ को इन महापुरुषों से प्रेरणा लेनी चाहिए।