नहर नहीं खोलने से परेशान किसानों ने दी आत्महत्या की धमकी - Pichhore News

पिछोर। खनियांधाना तहसील के ग्राम देवखो और आसपास के गांवों के किसान बुधना डेम की नहर का पानी खोले न जाने से परेशान हैं। पानी न मिलने के कारण उनकी फसल सूख रही है और ऐसी स्थिति में किसानों ने भूख हड़ताल, धरना प्रदर्शन, चक्काजाम से लेकर आत्महत्या तक का अल्टीमेटम दिया है।

उन्होंने कहा कि ऐसी स्थिति में उनके समक्ष मरने के अलावा कोई चारा नहीं है। किसानों का कहना है कि कई बार उन्होंने नहर के आलाअधिकारियों से पानी खोलने की चर्चा की है। लेकिन वह इधर-उधर की बात कर बात टाल रहे हैं तथा पानी नहीं खोल रहे हैं।

किसानों ने बताया कि बुधना डेम की नहर का साइफन पिछले 5 सालों से टूटा पड़ा है, न तो उसे ठीक कराया जा रहा है और न ही नहर में पानी छोड़ा जा रहा है। जबकि बुधना डेम में 5 फिट से अधिक पानी है और 10 दिन तक भी यदि नहर में पानी सप्लाई किया जाए तो पानी की कमी नहीं है। लेकिन नहर में पानी नहीं छोडऩे से फसले सूख रही हैं। किसानों ने कहा कि यदि शनिवार को नहर मेें पानी नहीं छोड़ा गया तो वे रविवार को हाईवे पर चक्काजाम करेंगे। जबकि बहुत से किसानों ने आत्महत्या तक करने की धमकी दी है।