महिला दिवस: विवाहिता को ससुरालियो ने दहेज के लिए फांसी पर लटकाया, पूर्व विधायक के साले का साथ - karera News

शिवपुरी। आज अंतराष्ट्रीय महिला दिवस हैं,आज शहर में महिलाओ के सम्मान में 1 दर्जन से अधिक कार्यक्रम आयोजित हुए हैं। महिला को नारी शक्ति और घर की लक्ष्मी से नवाजा गया होगा,सम्मान भी किया गया होगा। ऐसी कई तस्वीर आज हमारे सामने आई हैं,वही एक तस्वीर महिला के प्रताडना की भी सामने आई हैं। बीए तक पढी लिखी एक विवाहिता को सुसरालियो ने फांसी पर लटकाने का प्रयास किया है। महिला ने पुलिस को आवेदन भी सौंपा हैं।

मामला शिवपुरी के करैरा में सामने आया है जहां एक नवविवाहिता को दो लाख रूपए न लाने पर सुसरालियो के द्वारा प्रताडित किया जा रहा है और इन ससुरालियों को संरक्षण करैरा के पूर्व विधायक जसमंत जाटव के साले अशोक जाटव का है।

जानकारी के अनुसार शशि का विवाह करैरा के मुरारी जाटव के साथ 27 जुलाई 2017 को हुआ था और शशि के पिता ने अपनी हैसियत के अनुसार दान दहेज देकर शशि का विवाह मुरारी के साथ कराया था लेकिन शादी के कुछ दिनों बाद ही शशि को दहेज के लिए परेशान किया जाने लगा और उससे दहेज में दो लाख रूपए और लाने के लिए दबाव बनाते हुए उसकी मारपीट कर उसे भूखा प्यासा रखा जाने लगा।

नंद ने छोड दिया पति

शशि ने बताया कि उसकी सुसराल में सास ससुर प्रेमीलाल जाटव, पुष्पा जाटव, जेठ मनोज जाटव जेठानी अनीता जाटव तथा ननद संगीता प्रार्थिया के पति के साथ ही शामिल गृहस्थी में रहते हैं। प्रार्थिया की ननंद संगीता ने अपने पति को छोड़ दिया है तथा वह प्रार्थिया के विवाह से ही करैरा में रह रही है।

उक्त सभी वर्णित व्यक्ति प्रार्थिया के विवाह के बाद से ही प्रार्थिया को कम दहेज लाने का ताना देकर प्रताडित करते हैं और धमकी देते हुये कहते हैं कि अपने पिता से दो लाख रूपये दहेज में और लेकर आओ तभी तुम्हें रखेंगे ततसंबंध में प्रार्थिया ऊपर दबाव बनाने के उद्देश्य से उक्त सभी ने प्रार्थिया को कई बार मारा पीटा, भूखा प्यासा रखा।

29 जुलाई को लटका दिया था फांसी पर

शशि ने अपने ससुराल वालों पर आरोप लगाया है कि 29 जुलाई 2020 को उसके ससुराल वालों ने उसे फांसी पर लटका दिया था और प्रार्थिया को बेहोश हालत में उन्होंने अपने बचाव के लिये मुझ प्रार्थिया का अंगूठा लगाकर वकील द्वारा पेपर में निकलवा दिया था कि इसी ने अपने हाथों से फांसी लगा ली है, लेकिन मैं। प्रार्थिया तो बी.ए. फाईनल की छात्रा हूं। मुझ प्रार्थिया को जब फांसी पर लटकाया गया तब मेरे नाना ओमप्रकाश को पता चला की शशि को फांसी लगा दी है।

फिर मेरे नाना मुझ प्रार्थिया को झांसी अस्पताल ले गये थे फिर मेरे नाना ने मेरे पिता को फोन लगाया और कहा कि तुम जल्दी झांसी मेडिकल अस्पताल में आ जाओ तो मेरे माता-पिता व मेरे परिवार के लोग आ गये थे मुझ प्रार्थिया के इलाज का पूरा खर्चा मेरे माता-पिता नेही उठाया था।

पूर्व विधायक का साला दे रहा संरक्षण

शशि ने बताया कि सभी घटनाओं के लिये जसवंत विधायक का साला अशोक जाटव पुत्र बाबूलाल जाटव निवासी करैरा जिला शिवपुरी शामिल है और राहुल, कपिल जोशी भी इन घटनाओं में शामिल हैं। अशोक जाटव द्वारा मेरे पति से कहा जाता है कि या तो इसे तू मार दे या भगा दे मैं तेरी दूसरी शादी करवा दूंगा तथा दहेज में तुझे दस लाख रूपया दिलाऊंगा।

कार्रवाई के लिए सौंपा आवेदन

शशि जाटव ने आज एसपी कार्यालय पहुंचकर पूर्व विधायक के साले सहित अपने सुसराल वालों पर कार्रवाई करने के लिए एक शिकायती आवेदन एसपी राजेश चंदेल को सौंपा है।