नन्ही परी का स्वागत किया थाना प्रभारी ने शाही अंदाज में स्वागत:बैंड बाजे पहुंचे अस्पताल में - Pichhore News

पिछोर। बेटी बचाओ व बेटी पढ़ाओ का संदेश देने अस्पताल में बैंड-बाजों के साथ पहुंची पुलिस देश के कई हिस्सों में जब बेटा के जन्म पर खुशियां और बेटी के जन्म पर मातम मनाया जाता हो, लेकिन भौंती में बैंडबाजों से बेटी के जन्म पर खुशियां मनाई गईं। भौंती थाना प्रभारी पूनम सविता पहले ही महिला अपराधों पर रोक लगाने के लिए जिले में सम्मान पा चुकी हैं।

आजकल वह थाने की ड्यूटी से समय मिलते ही लड़कियों के साथ बैठकर उनको मार्गदर्शन दे रहीं हैं। थाना प्रभारी को पता चला कि आरक्षक बृजराज की पत्नी गीता ने मनपुरा अस्पताल में बेटी को जन्म दिया है तो वह अपना बेटी प्रेम रोक न सकी और जच्चा बच्चा के स्वागत के लिए अस्पताल में बेंडबाजे व डीजे लेकर पहुंच गईं।

पूनम सविता के अनुसार लोगों को बेटे बेटी में भेदभाव नहीं करना चाहिए। मेरा प्रयास है कि में बेटियों में आत्मविश्वास के साथ लोगों की बेटी के प्रति मानसिकता में बदलाव ला सकूं। पुलिस अधिकारी के रूप में यह कार्य में सफलता पूर्वक कर सकती हूं।

मां ने सिखाया बेटी भी आकाश छू सकती हैं
पूनम सविता ने बताया हम तीन बहनें हैं और तीनों ही पुलिस में वरिष्ठ पदों पर हैं हमारी माता ने हमें कभी भी कमजोर नहीं माना और उनका मानना था बेटी भी हर कार्य मे सफलता हासिल कर सकती है। इसी आत्म विश्वास की बदौलत हम पुलिस अधिकारी बनकर समाज सेवा के संकल्प को निभा रहीं हैं। मैं चाहती हूं अधिकतम लड़कियां पुलिस अधिकारी बनें ताकि महिला अपराधों पर लगाम लगे साथ ही लोगों की मानसिकता में बदलाव आ सके।