fastag अनिवार्य: कैश लेन बंद होने के कारण टोल पर लगा जाम, 2 गुना टोल देकर निकले वाहन - Shivpuri News

शिवपुरी। देशभर में आज से नेशनल हाईवे के टोल बूथों पर कैश लेन बंद कर दी गई है और फास्टटेग अनिवार्य किया गया है। इस कारण आज टोल बूथों पर लंबी-लंबी लाईने लगी रहीं। कैश लेन बंद होने से उन वाहन चालकों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा, जिन पर फास्टटेग नहीं थे।

उन वाहन चालकों के कारण टोल प्लाजाओं पर लंबा जाम लग गया। कुछ वाहन चालक जिन्हें जल्दी थी उन्होंने दो गुना टोल चुकाकर अपने वाहनों को वहां से निकाला। फास्टटेग लागू होने के कारण टोल प्लाजाओं पर फास्टटेग कार्ड बनवाने वालों का भी जमावड़ा लगा रहा।

1 जनवरी से देशभर में फास्टटेग अनिवार्य करने की योजना सरकार द्वारा लागू की गई थी। लेकिन तकनीकी दिक्कतों के कारण 1 जनवरी से यह व्यवस्था लागू नहीं हो सकी और फास्टटेग अनिवार्य करने की तारीख 15 फरवरी निर्धारित कर दी गई और 15 फरवरी रात 12 बजे से देशभर के टोलों पर कैश लेन बंद कर दी गई और फास्टटेग अनिवार्य कर दिया गया। शिवपुरी जिले में दो टोल आते हैं।

जिनमें पूरनखेडी और मुडखेड़ा आते हैं। कैश लेन बंद होने के कारण दोनों टोलों पर रात से ही जाम लगना शुरू हो गया। ऐसे वाहन जो फास्टटेग से लैश नहीं थे,वह फास्टटेग बनवाने के लिए टोल पर रूक गए। जिन लोगों को जाने की जल्दी थी उन्होंने दो गुना टोल चुकाया और टोल पार किया। सुबह होते-होते टोलों पर काफी भीड़ हो गई और फास्टटेग बनवाने वाले वाहनों की कतारें लग गईं।