ईमानदारी और निष्ठा से कार्य करने पर सेवानिवृत्ति के बाद भी मिलता है सम्मान: खटीक - Badarwas News

बदरवास। शासकीय सेवा में रहते ऐसे अनूठे कार्य पूर्ण ईमानदारी और निष्ठा से प्रत्येक कर्मचारी को करना चाहिए जिससे सेवानिवृति के बाद भी उसे आदर और मान सम्मान मिलता रहे औऱ अन्य लोग भी उसके सद्कार्यों और ईमानदारी को मिसाल के रूप में याद रखें। उक्त उदबोधन बदरवास के पूर्व बीईओ और संकुल प्राचार्य केसी खटीक ने जनशिक्षा केंद्र अटलपुर पर अपने सम्मान में आयोजित सेवानिवृति विदाई सम्मान समारोह में दिया।

जनशिक्षा केंद्र अटलपुर पर आयोजित संकुल प्राचार्य केसी खटीक के सेवानिवृति सम्मान समारोह की शुरुआत अतिथियों ने मां सरस्वती की प्रतिमा पर माल्यार्पण और दीप प्रज्ज्वलन कर किया। कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि बीआरसीसी राजेश कम्ठान, संकुल प्राचार्य राकेश शर्मा, कर्मचारी नेता रामनिवास रघुवंशी रहे।

स्वागत भाषण में बोलते हुए अध्यापक संघ के प्रदेश उपाध्यक्ष गोविन्द अवस्थी ने सेवानिवृत संकुल प्राचार्य के कार्य व्यवहार की सराहना करते हुए आगामी समय राष्ट्र और समाजसेवा में लगाने हेतु सुखद और उज्ज्वल भविष्य की कामना कर शुभकामनाएं दी। विदाई कार्यक्रम में जितेंद्र शर्मा, राखी भार्गव, रामनिवास रघुवंशी, मनीष बैरागी,अमित शर्मा सहित बीआरसीसी राजेश कम्ठान,संकुल प्राचार्य राकेश शर्मा ने भी अपने विचार प्रकट कर उन्हें शुभकामनाएं दीं।

सीएसी रविन्द्र चौरसिया सहित सभी शिक्षकों द्वारा सेवानिवृत संकुल प्राचार्य केसी खटीक को शॉल, श्रीफल,वस्त्र और उपहार तथा माल्यर्पण कर उनका स्वागत कर विदाई दी गई। कार्यक्रम के अंत में आभार प्रदर्शन जशिके प्रभारी अमित शर्मा ने किया तथा कार्यक्रम का संचालन राजेश नामदेव ने किया। कार्यक्रम में लगभग एक सैकड़ा शिक्षकों के सहभागिता रही।