पति अपनी पत्नि को उसके प्रेमी से मिलने से रोकता था, इसलिए हत्या करा दी: पत्नि और प्रेमी सहित 4 को आजीवन कारावास - Pichhore News

पिछोर। पिछोर न्यायालय ने पति की हत्या के आरोप में उसकी पत्नि,प्रेमी और 2 लोगो को आजीवन कारावास और 5-5 हजार रूपए के अर्थदंड की सजा सुनाई हैं,पत्नि को उसका पति उसके प्रेमी से मिलने से रोकता था। इस लिए पत्नि ने अपने प्रेमी और उसके दोस्तो के साथ मिलकर अपने पति की हत्या की योजना बनाते हुए उसकी हत्या कर दी।

अभियोजन के अनुसार गौरीशंकर लोधी की 26 जून 2017 को उसकी पत्नी अनीता लोधी, राजेश लोधी, कमल लोधी, जगभान लोधी निवासी ग्राम सिरसोना ने साजिश रचकर हत्या कर दी थी। दरअसल स्वर्गीय गौरीशंकर लोधी अपनी पत्नी अनीता और उसके प्रेमी राजेश लोधी को मिलने से रोकता था।

क्योंकि उसे अनीता का चाल चलन ठीक नहीं लगा। इस बात पर अनीता और गौरीशंकर का झगड़ा होने लगा था। रंजिश में अनीता ने अपने प्रेमी राजेश लोधी व अपने दोस्त कमल लोधी, जगभान लोधी के साथ मिलकर गौरीशंकर को मारने की योजना बनाई।

26 जून 2017 को अनीता ने अपने पति गौरीशंकर को दवाई दिलाने की कहकर घर से बाहर करीब 10 बजे बाइक पर भौंती ले गई। जबकि अनीता ने इसकी सूचना पहले से ही तीनों आरोपियों को दे रखी थी। रास्ते में आरोपियों ने गौरीशंकर को रोक लिया और लाठी व पत्थरों से पीट पीटकर हत्या कर दी।

गौरीशंकर के पिता की रिपोर्ट पर पुलिस ने अपराध दर्ज किया। न्यायालय ने साक्ष्य और दोनों पक्षों को सुनने के बाद इस जघन्य एवं सनसनीखेज प्रकरण में फैसला सुनाया है। शासन की ओर से पैरवी अभियोजन अधिकारी शैलेंद्र कुमार शर्मा ने की।