धसकी पोतनी मिट्टी की खदान: 4 महिलाए दबी, 1 मौत 3 घायल - Shivpuri news

शिवपुरी। खबर जिल के सुरवाया थाना अंतर्गत आने वाले नया बलारपुर मार्ग से आ रही हैं कि नया बलारपुर मार्ग में उस समय पोतनी मिट्टी की खदान धसक गई जब 4 महिला उसमें खुटाई कर मिट्टी निकाल रही थी। इस हादसे में चारो महिलाए दब गई थी जिसमें 1 की मौत हो गई और अन्य 3 घायल हो गई

जानकारी के अनुसार अनूपी (60) पत्नी उम्मेद आदिवासी अपनी साथी महिलाएं बसंती (60) पत्नी नक्टू आदिवासी, बैजयंती (62) पत्नी बचून और हरबी (35) पत्नी सुरेश आदिवासी के संग 45 किमी दूर नया बलारपुर गांव के पास पोतनी मिट्‌टी लेने गई थीं। खदान धंसकने से मलबे में अनूपी आदिवास और दबी बैजयंती दब गईं, जबकि बसंती व हरबी दूर होने से मिट्‌टी हटाकर बाहर आ गईं।

इतने में गांव वाले आए और अनूपी व बैजयंती को बाहर निकाला। हादसे में अनूपी की मौत हो गई है, जबकि बैजयंती व बसंती गंभीर रूप से घायल हैं। हरबी को मामूली चोट आई है।

बताया जा रहा हैं कि ग्रामीणों ने डायल 108 पर सूचना दे दी और इस सूचना पर  ईएमटी राहुल धाकरे व पायलट मनोज मौके पर पहुंचे और घायलों को अस्पताल पहुंचाया। सूचना पर सुरवाया थाना प्रभारी दीप्ति तोमर भी घटनास्थल पहुंच गई थीं। घायलों को इलाज के लिए भेजा।

अनूपी मेरे ऊपर गिरी मिट्‌टी हटा रही थी तभी भरभरा कर धंसक गई खदान
मृतका की छोटी बहन हरबी ने बताया कि हम तीन महिलाएं खदान के अंदर से पाेतनी मिट्‌टी के तस्सल भरकर ऊपर खड़ी बड़ी बहन अनूपी को दे रहे थे।

खदान की थोड़ी मिट्‌टी मेरे ऊपर गिर गई थी। देखने के लिए अनूपी भी खदान में उतर आई और मिट्‌टी झड़ाने लगी। तभी भरभराकर पूरी खदान ढह गई और मेरा पैर मलबे में दब गया, जबकि पैर के नीचे अनूपी दबी हुई थी। बाद में पता चला कि उसकी मौत हो गई।

अस्पताल में भर्ती घायल महिला बसंती।
शिवपुरी जिले के सुरवाया क्षेत्र के बलारपुर गांव में पोतनी की खदान पर रविवार को तीन अन्य महिलाओं के साथ मिट्‌टी निकालने गई थी। अचानक खदान धंसक गई। इस दौरान बसंती बाई भी दब गई। वे हाथ जोड़कर ग्रामीणों से बोलीं- हमारी जान बचा लो। लोगों ने तत्काल उन्हें बाहर निकाला।