साहब! रूहानी की उचित मूल्य की दुकान पर राशन नहीं दे रहा है सेल्समैन, कार्यवाही की जाए - Shivpuri News

शिवपुरी। आज जिला कलेक्टर कार्यालय में रूहानी गांव से आए ग्रामीणों ने अपनी उचित मूल्य की दुकान के सेल्समैन पर गंभीर आरोप लगाए है। ग्रामीणों का आरोप है कि वह पीडीएस के माल को बेच देता है। और ग्रामीण माल के लिए चक्कर लगाते रहते है। परंतु वह माल नहीं दे रहा है। 

ग्रामीणों ने आवेदन देते हुए बताया है कि ग्राम कूड़ा टपरा ग्राम पंचायत रूहानी तहसील कोलारस जिला शिवपुरी के अनुसूचित जनजाति वर्ग के व्यक्ति है और बीपीएल राशनकार्ड धारी है। ग्रामीणों का आरोप है कि उन्हें शासकीय उचित मूल्य की दुकान रूहानी से खाद्यान्न सामग्री मिलना तय है परन्तु उक्त दुकान के विक्रेता चन्द्रपाल ठाकुर द्वारा हमें नियमानुसार खाद्यान्न प्रदान नहीं किया जाता है। 

हमें कभी भी केरोसिन वितरित नहीं किया है,न ही कभी शक्कर दी गई है । न वह समय पर दुकान खोलता है, न ही पूरी मात्रा में खाद्यान्न दिया जाता है । हम प्रार्थीगण के घरो से दुकान की दूरी 09 किलोमीटर है।

हम अपनी मजदूरी छोड़कर दुकान खाद्यान्न लेने जाते हैं लेकिन कभी दुकान बंद मिलती है कभी वह खाद्यान्न देने से मना कर देता है । यह कि उक्त विक्रेता द्वारा कोरोना अवधि का निःशुल्क अतिरिक्त खाद्यान्न प्रदान नहीं किया गया है जबकि शासन की ओर से कोविङ .19 महामारी के दौरान निःशुल्क अतिरिक्त खाद्यान्न प्रदान करवाया गया है लेकिन विक्रेता द्वारा हमें वंचित कर दिया गया है । 

उसके द्वारा खाद्यान्न की कालाबाजारी की जाती है । यह कि विक्रेता द्वारा न तो समय पर व नियमित रूप से दुकान खोली जाती है न ही निर्धारित मात्रा में राषन सामग्री प्रदान की जाती है । हमारे द्वारा इस बाबत् कहने पर अभद्रता करने आमादा हो जाता है । 13 01 2021 को भी हम खाद्यान्न लेने गये तो विक्रेता ने खाद्यान्न नही दिया अभद्रता करके भगा दिया । 

हमारे द्वारा पूर्व में शिकायत भी की जा चुकी है लेकिन हमारी समस्या का समाधान नहीं हो पा रहा है । अतः श्रीमान जी से निवेदन है कि शास ० उ ० मू ० दुकान रूहानी के विक्रेता द्वारा हमें कोरोना अवधि का निःशुल्क अतिरिक्त खाद्यान्न प्रदान नहीं किये जाने तथा नियमानुसार खाद्यान्न प्रदान न करने तथा इस बारे में निवेदन करने पर गालीगलोंच कर अपमानित करने तथा धमकियां देने से उक्त विक्रेता को हटवाकर किसी ईमानदार विक्रेता की नियुक्ति करवाने की मांग की।