गुरु गोविंद सिंह जी की जयंती पर पर्यावरण बचाने का लिया संकल्प - Shivpuri News

शिवपुरी। गुरु गोविंद सिंह जयंती पर्यटक स्वागत केंद्र पर चैकसे शाखा पर मॉर्निंग वॉक के दीवानों ने मनाईएइस अवसर पर सभी स्वयंसेवको ने पर्यावरण को बचाने का संकल्प लिया। जयंती के अवसर पर बोलते हुए विष्णु गोयल ने कहा कि गोविंद सिंह जी जैसे त्यागी बहुत कम है,जिनने शीश झुकाना नहीं कटाना स्वीकार किया।

ऐसे बलिदानी को स्मरण करना श्रद्धा से शीश झुकाना स्मरण करना हम सभी के नैतिक जिम्मेदारी है। समाजसेवी संजय ओझा ने कहा कि राष्ट्रधर्म को निभाने के लिए अपने चारों पुत्रो का बलिदान कर स्वयंम के जीवन को भी अर्पित करने वाले श्रेष्ठ महामना गुरु गोविंद सिंह जी थेएवह भारतीय युवाओं के आदर्श हैएउनसे प्रेरणा लेकर मन मे राष्ट्रभक्ति का भाव विकसित करना समय की मांग है। 

पत्रकार ब्रजेश तोमर ने कहा कि स्वच्छता और पर्यावरण को बचाने का संकल्प इस अवसर पर हम सभी को लेना चाहिएएइस तरह से भी सच्ची श्रद्धांजलि हम गुरु गोविंद सिंह को प्रदान करेंगे,जरूरी नही की हम बड़े बड़े काम कर ही अपनी राष्ट्रभक्ति प्रदर्शित करे छोटे.छोटे कामों से भी परिवर्तन आ सकता है। 

समाजसेवी ओमप्रकाश जैन ओमी ने इस अवसर पर कहा कि चारो योग्य बलिदानीएबलशाली पुत्रो के पिता गुरु गोविंद सिंह जी का जीवन बेहद ऊंचा थाएवह वाकई देव कार्य के लिए धरा पर प्रकट हुए थेए उनके बलिदान को भुलाया नही जा सकता।

समाजसेवी तरुण अग्रवाल ने कहा कि देश के लिए सर्वोच्च बलिदान देने वाले गुरु गोविंद सिंह जी की जयंती पर हम विचार करे कि हम देश को क्या दे पा रहे हैएपर्यावरण को बचाने व संवारने में हमारा कितना योगदान हैएमें घोषणा करता हु की 50 पेड़ साल भर में पर्यटक स्वागत केंद्र पर लगाकर अपनी भूमिका निभाउंगा। 

युवा कवि आशुतोष शर्मा ने कहा कि भारतीय इतिहास के सर्वोच्च नायक जिनकी दृढ़ इच्छाशक्ति ने सम्पूर्ण विश्व मे एक अमिट गौरव गाथा प्रस्तुत की उनका जीवन वास्तविक जीवन हैएऐसे त्यागी बलिदानी महापुरुष के चरणों मे नमन है।