लोकतंत्र के महायज्ञ में यह परिवार नहीं दे सकेंगे अपने मत की आहूति: जानिए क्या कारण है - shivpuri news

शिवपुरी। आज जिले की पोहरी और करैरा विधानसभा के होने वाले चुनाव का मतदान का यज्ञ हैं पिछले 1 माह से प्रत्याशियो के चुनाव प्रचार और प्रशासन वोटिंग प्रतिशत बढाने के लिए प्रचार कर रहा था। मतदाता भी अपने मत का प्रयोग करने के लिए उत्साहित हैं।

लेकिन करैरा विधानसभा के दो परिवार इस मतदान के महायज्ञ से वंचित हो गए हैं। इसकी शिकातय भी प्रशासन से की हैं। करैरा विधानसभा में आने वाले गांव सिरसौद निवासी व्यवसायी महेश गुप्ता ने बताया कि जब से वह 18 साल के हुए हैं तब से आज तक जितने भी चुनाव हुए हैं सब में मां के साथ मतदान केंद्र पर जाकर हमने वोट किया हैं।

लेकिन इस बार न तो मेंरी मां रामसुखी गुप्ता 66 वर्ष की पर्ची वोट डालने वाली आई हैं और न ही मेरा और बेटे संकेत गुप्ता 21 साल की आईं। मां—बेटे के साथ जब मैने अपने नाम वोटर सूची में देखे तो वह गायब थे। मां का नाम तो वोटर सूची से डिलीट कर दिया गया। हम दोनो बाप बेटे के नाम वोटर सूची में शामिल नही हैं। अब हम वोट कैसे करेगें। न तो हमारी मृत्यु हुई और न ही हमने गांव छोड़ा फिर हमारे नाम वोटर लिस्ट में क्यों नहीं हैं।अब हम कैसे वोट करेंगे 

वही सिरसौद के नरेश योगी 46 वर्ष और उनके बेटे नीलेश योगी 25 वर्ष का नाम भी वोटर लिस्ट से गायब हैं। दोनों परिवारों का कहना है कि हमारी बिना सूचना के नाम कट कैसे गया। हमारे पास न तो बीएलओ नाम कटवाने आया और न ही कोई अन्य जानकारी हम से ली गई।

हमारा सवाल यह है कि हमारे वोट आखिर क्यों काटे गए। जब इस संबंध में बीएलओ से पूछा तो वह बोले कि मैने तो किसी के नाम काटने की न तो सिफारिश की और न ही नाम काटे। हो सकता है कि तहसील कार्यालय से नाम कटा हो। एसडीएम राजन बी नाडिया से जब इस संबंध में बात की तो वह बोले कि बिना बीएलओ के न तो नाम कटता हैं और न ही नाम बढता है। हम इस मामले की जांच कराऐंगें।