अपनी ही मंगेतर का अपहरण कर ले गया, घर से मिलने बुलाया था: मामला दर्ज - karera News

करैरा। अभी तक आपने किसी दूसरे की पत्नि या मंगेतर के अपहरण की खबर पडी होगी,लेकिन यह खबर अपनी ही मंगेतर का अपहरण करने की हैं। करैरा अनुविभाग के एक गांव में रहने वाली एक किशोरी को उसके पिता के द्धवारा पसंद किया जाने वाला लडका ही भगा ले गया।

जानकारी के अनुसार करैरा थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाला मडोरीपुरा गांव के पिता ने अपनी नाबालिग बेटी की सगाई ग्वालियर जिले के कहरिया गांव के रहने वाले प्रमोद के साथ तय की थी। नाबालिग होने में अभी दो साल का समय बचा है । इसलिए शादी नहीं की। सगाई के बाद फोन पर बातचीत के चलते बेटी और होने वाले दामाद के बीच प्रेम प्रसंग गहरा गया,दोनो को 2 साल तक रूकने का कंट्रोल नही हुआ इस कारण यह घटनाक्रम हुआ हैं। 

पिता ने करैरा थाना आकर बताया कि 26 नवंबर को सुबह 7 बजे वह और उसकी पत्नी खेत पर चले गए। घर पर बड़ी बेटी और छोटी बेटी को छोड़ गए थे। शाम 5 बजे घर लौटे तो छोटी बेटी ने बताया कि पापा बड़ी बहन बाजार में सामान लेने की कहकर गई हैं, जो अभी तक नहीं लौटी। 

नाबालिग बेटी की कस्बे सहित रिश्तेदारी में तलाश की तो कहीं पता नहीं चला। पिता ने ग्वालियर जिले के करहिया गांव के रहने वाले प्रमोद पर अपनी बेटी को बहला फुसलाकर भगा ले जाने का संदेह जताया हैं। आशंका जताई है कि मेरी बेटी को वह शादी का झांसा देकर अपहरण कर ले गया हैं। पुलिस ने धारा 363 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है । 

यह भी बताया जा रहा है कि संदेही प्रमोद 26 नवंबर को करैरा आया था और फोन करके नाबालिग को मिलने के लिए बगीचा वाले स्थान पर बुलाया था। पूछताछ करने पर युवक द्वारा नाबालिग मंगेतर को बगीचा के नीचे छोड़ने की बात कही जा रही है । हिरासत में लेकर फूछताछ के बाद नाबालिग के बारे में खुलासा हो सकेगा।