बहु ने दहेज प्रताड़ना का आरोप लगाया, कोर्ट में पदस्थ बेटे के बचाव में आए पिता - SHIVPURI NEWS

शिवपुरी। मेरे साथ ससुराल पक्ष ने ज्यादती की हैं। सवा साल पहले मेरी शादी महू में कोर्ट में टाइपिस्ट अंशुमन के साथ हुई थी और इसके बाद से ही ससुराली जन दहेज के लिए प्रताड़ित कर रहे हैं। उन्होंने न केवल मेरे जेवरात अपने पास रख लिए हैं वरन साड़ियां भी मुझे नहीं सौंपी हैं। अब इन पर कड़ी कार्रवाई हो इसलिए आवेदन हमने एसपी को सौंपा है । 

शहर के विवेकानंद पुरम में निवासरत युवती साक्षी ने एसपी को सौंपे आवेदन दिखाते हुए कहा कि उसकी शादी 24 जून 2019 अंशुमन पुत्र अनिल शर्मा निवासी महाराणा प्रताप कॉलोनी शिवपुरी से हुई थी। पति महू कोर्ट में टाइपिस्ट हैं। शादी के बाद मुझे सास ससुर के पास रखा और एक महीने बाद वह इंदौर ले गए। जहां मेरे साथ वह दुर्व्यवहार करने लगे और सास ससुर के साथ सारा परिवार दहेज में 5 लाख लाने के लिए कह रहा हैं। 

यही नहीं मेरी सारी साडियां और जेवरात भी ससुराल से मुझे वापस नहीं दिया इसकी शिकायत हमने फिजिकल चौकी में की और बुधवार को हमने एसपी कार्यालय में आवेदन किया। युवती ने यह भी बताया कि उसका पति अपराधिक प्रवृति का है और कोई भी अप्रिय घटना कर सकता है इसलिए हमारे परिवार की और मेरी सुरक्षा की जाए । 

वहीं शिवपुरी निवासी युवती के ससुर अनिल शर्मा ने कहा कि सारे आरोप बेबुनियाद हैं। और इस पूरे प्रकरण में हमारे बेटे की गलती नहीं बहू की गलती हैं। यह शादी दोनों पक्षों के समझौता के आधार पर हुई। बहू इंदौर से लड़ - झगड़कर आ गई। इसके बाद फैमिली कोर्ट में केस लगाया। कोर्ट के निर्देश पर पर हम 11 दिसंबर 2019 को बहू को साथ ले आए । इंदौर में उसका व्यवहार ठीक नहीं रहा । उनके परिवार को बताया पर बहू आने तैयार नहीं हुई । अब मामला फैमिली कोर्ट में हैं।