गर्त में गई कांग्रेस को आगे चलकर नेता प्रतिपक्ष भी नहीं मिलेगा: नरोत्तम मिश्रा - SHIVPURI NEWS

शिवपुरी।
पोहरी विधानसभा क्षेत्र की तहसील बैराड़ में भाजपा प्रत्याशी के समर्थन में चुनावी आमसभा को संबोधित करते हुए भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि सोनिया गांधी का दरबारी होने के कारण सेठ कमलनाथ को उपहार स्वरूप मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कुर्सी मिली थी। उन्होंने आरोप लगाया कि गरीबी और गांव से वास्ता न रखने वाले कमलनाथ ने बल्लभ भवन को दलाली का अड्डा बना दिया था।

वहीं प्रदेश गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने अपने चुटकीले अंदाज में जनता से बाद संवाद करते हुए कहा कि कांग्रेस की बनी बनाई सरकार को मुख्यमंत्री कमलनाथ बचा नहीं सके अब चले सरकार बनाने उन्होंने कहा कि विपक्ष के विधायक के कहने पर हेण्डपंप का बाल तक नहीं बदलता फिर कांग्रेस के विधायक क्षेत्र का विकास कैसे कर सकता हैं। उन्होंने जनता से अपील की कि यदि राज्य मंत्री सुरेश राठखेड़ा को जिताओगे तो वह कैबिनेट मंत्री बनकर वे क्षेत्र का विकास करेंगे।

आमसभा का संचालन भाजपा कोषाध्यक्ष दिलीप मुदगल एवं आभार व्यक्त विवेक पालीवाल द्वारा किया गया। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष बीडी शर्मा ने अपने संबोधन में आगे कहा कि यह उप चुनाव उम्मीदवार का नहीं बल्कि जनता का हैं। यह चुनाव प्रदेश को बचाने के साथ-साथ प्रगति और विकास का चुनाव हैं। उन्होंने दिग्विजय सिंह के शासन काल को याद दिलाते हुए कहा कि 2003 से पूर्व प्रदेश बिजली, पानी, बेरोजगारी, सडक़ जैसी मूलभूत समस्या से जूझ रहा था।

इतना ही नहीं प्रदेश से पैसा भी उनके द्वारा गायब कर दिया गया था, जिसके चलते मध्य प्रदेश बर्वादी की कगार पर पहुंच गया था। श्री शर्मा ने कमलनाथ सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि 15 वर्ष के कार्यकाल के दौरान भाजपा सरकार द्वारा चलाई जाने वाली गरीब कल्याण की योजनाओं को बंद कर उनका हक छीनकर पाप किया हैं।

6 हजार करोड़ रूपए का कर्ज माफ के प्रमाण पत्र वितरण करने वालेे कमलनाथ ने लिखित में किसानों के साथ दोखा किया। कांग्रेस की सरकार में बढ़ते भ्रष्टाचार के चलते प्रदेश के 28 विधायकों ने अपनी विधायकी से इस्तीफा देकर कांग्रेस की सरकार इसलिए गिराई क्योंकि उनके क्षेत्र में ही नहीं बल्कि पूरे प्रदेश में विकास कार्य ठप्प पड़ गए थे।

प्रदेश गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने आगे कहा कि कांग्रेसियों की मानसिकता विचित्र हालात से गुजर रही हैं। वह अपनी संस्कार और संकृति को भूल चुके हैं। जिसके कारण नवत्री के पवित्र दिनों में जहां माता-बहिनों का सम्मान किया जाता हैं वहां वे दलित नेत्री को (आयटम)कहकर मजाक उड़ाते हैं। वहीं प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह कांग्रेस नेत्री को टंच माल बता चुके हैं।

उन्होंने बताया कि केन्द्र में कांग्रेस अभी तक अपना नेता प्रतिपक्ष नहीं बना सकी। ठीक बैसे ही आगामी समय में मध्य प्रदेश में भी नेता प्रतिपक्ष बनाने लाईक कांग्रेस नहीं बचेगी। अंत में उन्होंने कहा कि वे और सुरेश राठखेड़ा इस क्षेत्र के विकास में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे जिसका वह वचन देते हैं।

चुनावी आमसभा में मुख्य रूप से भाजपा के प्रदेश महामंत्री रणवीर सिंह रावत, चुरैहट विधायक एवं प्रदेश महामंत्री शरतेन्दु तिवारी, सहडोल के विधायक शरद कॉल, कोलारस विधायक वीरेन्द्र रघुवंशी, पूर्व विधायक नरेन्द्र बिरथरे सहित अन्य नेता उपस्थित थे।