मेडिकल कॉलेज की कोरोना की जांच रिर्पोट फर्जी, कोरोना पॉजीटिव आने के बाद पूर्व CMO ने कहा - Shivpuri News

शिवपुरी।
पूर्व सीएमओ रामनिवास शर्मा की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर उन्होंने इस जांच को झूठा बताते हुए जिला चिकित्सालय प्रबंधन और मेडीकल कॉलेज प्रबंधन पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने अपनी जांच रिपोर्ट को झूठा बताया है और आरोप लगाया है कि जिला चिकित्सालय प्रबंधन ने द्वेषपूर्ण भावना से उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव बताई है।

जबकि वह पूर्ण रूप से स्वस्थ हैं और एक घंटे तक शीर्षाशन करते हैं और उनमें कोई भी कोरोना के लक्षण नहीं हैं। इसके बाद भी उनकी जांच रिपोर्ट पॉजिटिव कर दी गई है। कोरोना के नाम पर हो रही गड़बड़ी को लेकर वह उच्च स्तर पर अपनी शिकायत दर्ज कराएंगे।

प्राप्त जानकारी के अनुसार पूर्व सीएमओ रामनिवास शर्मा गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा की करैरा में आयोजित आमसभा में शामिल हुए थे। इसके बाद से ही उन्हें थकान महसूस हो रही थी और 11 अक्टूबर को उन्हें बुखार भी आया। लेकिन उन्होंने डॉक्टर को दिखाकर दवा ले ली।

इसके बाद से वह पूर्ण रूप से स्वस्थ हो गए। श्री शर्मा का आरोप है कि ब्लॉक मेडीकल ऑफिसर ने उनका कोरोना टेस्ट किया और द्वेषपूर्ण भावना से उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव बता दी। उनका कहना है कि जिला चिकित्सालय में कोरोना के नाम पर बड़ा फर्जीबाड़ा किया जा रहा है। जिसे लेकर वह इस मामले को उच्च स्तर तक ले जाने की तैयारी कर रहे हैं और वहां भी अगर उनकी सुनवाई नहीं हुई तो वह पूरे मामले को न्यायालय में ले जाएंगे।