पिछोर में साहूकार यादव की प्रताड़ना के कारण किसान ने आत्महत्या की थी, मामला दर्ज / Pichhore News

पिछोर। खबर जिले के पिछोर अनुविभाग के  मायापुर थाना क्षेत्र के गितोरा गांव में विगत दिनों एक किसान धर्मेंद पुत्र आशाराम यादव द्वारा जहर का सेवन करने के मामले में पुलिस ने जांच के बाद गांव के एक साहूकार राजकुमार पुत्र चंद्रभान सिंह यादव के खिलाफ आत्महत्या उत्प्रेरण का मामला  दर्ज कर लिया है।

जांच में खुलासा हुआ है कि आरोपी राजकुमार ने मृतक को कुछ रूपए उधार दिए थे। जिसे आर्थिक तंगी के कारण धर्मेंद्र वापस नहीं कर पा रहा था तो आरोपी ने उसके घर जाकर उसकी बाइक उठा ली और अपने साथ ले आया।

इस दौरान धर्मेंद्र ने उससे काफी अनुनय विनय कर कुछ समय की मोहलत मांगी। लेकिन वह नहीं माना। इस घटना से वह इतना आहत हो गया और गांव में उसकी इज्जत उछल गई। जिससे उसने शर्म के कारण घर में रखा कीटनाशक दवा का सेवन कर लिया। जिससे उसकी इलाज के दौरान झांसी में मौत हो गई।

बताया जा रहा हैं कि  धर्मेंद्र पुत्र आशाराम यादव उम्र 26 वर्ष निवासी गितोरा गांव में खेती कर अपना जीवन यापन करता था और खेती के लिए उसने गांव के साहूकार राजकुमार पुत्र चंद्रभान सिंह यादव से कुछ रूपए उधार लिए थे। लेकिन लॉकडाउन लगने के कारण वह उक्त लिया गया कर्जा वापस नहीं कर पाया। इस दौरान साहूकार लगातार उस पर रूपए वापिसी के लिए दबाव बना रहा था।

जहां तक कि साहूकार ने घटना से एक दिन पहले उसकी घर आकर बेइज्जती की और उसके घर से बाइक उठाकर ले गया। जिससे उसने कीटनाशक का सेवन कर लिया और उसकी मौत हो गई। पुलिस ने मामले में मर्ग कायम कर जांच शुरू की और मृतक के माता पिता के बयान दर्ज किए।

जिसमें उन्होंने आरोप लगाया कि राजकुमार ने उसका काफी अपमान किय था और गांव वालों के सामने उसे बेईज्जत कर उसकी बाइक घर से उठा ले गया था। जिससे वह अपने आप को काफी अपमानित महसूस कर रहा था और इसी अपमान की आग में जलकर उसने यह आत्मघाती उठा लिया।