चंद्रा कॉलोनी में अपने ही घर में साडी के फंदे पर लटकता हुआ मिला ITBP के जवान का शव / Shivpuri News

शिवपुरी। शहर के नवाब साहब रोड चंद्रा कॉलोनी में रहने वाले आईटीवीपी में पदस्थ 44 वर्षीय अनिल प्रताप सिंह का शव बुधवार रात घर में वेंटीलेशन के जाल पर साडी के फंदे पर झूलता मिला। परिजन तत्काल अस्पताल लेकर ले गए जहां डॉक्टरो ने उसे मृत घोषित कर दिया।

अनिल छत्तीसगढ के नक्सलाइट वेल्ट में पदस्थ था। हाल ही में विभागीय कार्य से करैरा आया था। जहां से छुट्टी लेकर 1 सितंबर को घर पहुंचा और बुधवार शाम उसका शव फंदे पर झूलता मिला। पुलिस ने मर्ग कायम कर विवेचना शुरू कर दी है । कोतवाली टीआइ बादामसिंह यादव ने बताया कि प्राथमिक जांच में सामने आया है कि मृतक हवलदार का पत्नी से झगड़ा हुआ था संभवत इसी के चलते उसने आत्महत्या जैसा कदम उठाया ।

बताया जाता है कि मंगलवार शाम अनिल का पत्नी से झगड़ा हुआ था। इसके बाद पत्नी सामने स्थित परिवार के दूसरे मकान में अपनी सास के पास आ गई थीं। रात भर अनिल अकेला घर में रहा। बुधवार की दोपहर भी उसे छत पर टहलते हुए  देखा था, लेकिन शाम को भी जब वह बाहर नहीं आया तो स्वजन वहां पहुंचे तो साड़ी के फंदे पर वह लटका हुआ था।

मृतक अनिल के बड़े भाई लोकेन्द्र सिंह भी आइटीबीपी में निरीक्षक हैं,जबकि उसके एक और बड़े भाई उपेन्द्र सिंह आर्मी में थे, उनकी साल 2012 में नासिक में ड्यूटी के दौरान हृदयघात से मौत हो गई थी ।

गार्ड ऑफ ऑनर के साथ हुआ अंतिम संस्कार

हवलदार अनिल प्रताप की मौत की खबर लगते ही मोहल्ले सहित आइटीबीपी शिवपुरी में भी शोक की लहर दौड़ गई । दोपहर में उसका अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान परंपरागत ढंग से उसे आइटीबीपी जवानों ने गार्ड आफ ऑनर भी दिया। अनिल के पिता वेटनरी में पदस्थ थे। कुछ साल पहले ही उनका निधन हो गया था ।