जमीन घोटाले का मुख्य आरोपी बीनू श्रीवास्ताव अभी भी फरार, हो चुकी है 4 FIR - SHIVPURI NEWS

शिवपुरी।
जिले के बैराड़ में 1250 बीघा जमीन के फर्जी पट्टे जारी कर 2 करोड़ रूपए से अधिक की वसूली करने वाला मुख्य आरोपी सत्यम उर्फ बीनू श्रीवास्तव फरार बना हुआ है। पुलिस ने उसकी तलाश में ग्वालियर में भी दबिश दी। लेकिन वह वहां से भी फरार हो गया।

पुलिस ने जांच में पाया कि आरोपी सत्यम कलेक्टर से लेकर एसडीएम और तहसीलदार के हूबहू हस्ताक्षर करने में माहिर है। उस पर आरोप है कि उसने सरकारी जमीन खुर्दबुर्द कर लोगों से करोड़ों रूपए ऐंटे हैं। आरोपी राजस्व विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों से सांठगांठ कर फर्जीबाड़े को अंजाम देता था। सत्यम पेशे से दस्तावेज लेखक है।

इस फर्जीबाड़े में देहात थाने और बैराड़ में अभी तक चार एफआईआर हो चुकी हैं। कल बैराड़ थाने में फरियादी नरेश धाकड़ निवासी रामगढ़ ने दर्ज कराई है। आरोपी बिन्नू उर्फ सत्यम श्रीवास्तव ने 6 माह पहले सर्वे नम्बर 290 में 2.31 हेक्टर का पट्टा देने का लालच देकर उससे 6 लाख रूपए लिए। दूसरी एफआईआर सौबरन यादव निवासी सेंगाड़ा ने दर्ज कराई है।

उसका कहना है कि आरोपी बिन्नू उर्फ सत्यम श्रीवास्तव ने सर्वे नम्बर 1112 में से 2 हेक्टर और सर्वे नम्बर 1119 से 0.14 हेक्टर एवं सौबरन की पत्नी के नाम सर्वे नम्बर 1112 में 2 हेक्टर के पट्टे देने का झांसा देकर 2 लाख रूपए लिए। जबकि कम्प्यूटर में उसके नाम कोई जमीन नहीं मिली। एक एफआईआर बैराड़ थाने में ऋषिकेश त्रिवेदी निवासी भदेरा ने दर्ज कराई है।

फरियादी ऋषिकेश ने बताया कि 4-5 माह पहले आरोपी ने ग्राम रसेड़ा में सर्वे नम्बर 1209, 1222 रकवा 1.29 हेक्टर का पट्टा देने का लालच देकर उससे 2 लाख रूपए लिए। लेकिन कम्प्यूटर में जब उसने रिकॉर्ड देखा तो उसके नाम कोई पट्टा नहीं था। पुलिस सूत्रों ने बताया कि अभी इस मामले में और खुलासे होना बाकी है।