भरा-भराकर गिरे भ्रष्टाचार में 2 अधिकारी सस्पेंड: मामला कोलारस की पानी की टंकी का

शिवपुरी। खबर मप्र की राजधानी भोपाल से आ रही हैं कि नगरीय प्रशासन के आयुक्त निंकुज कुमार श्रीवास्तव ने जिले की कोलारस की पानी की टंकी के गिरने के मामले में 2 अधिकाारियो को सस्पैंड कर दिया। वही इस मामले में कोलारस थाने में इस पानी की टंकी को निर्माण करने वाली ऐंजेंसी के कर्ताधर्ताओ पर भी मामला दर्ज हो चुका है। 

जैसा कि विदित हैं कि कोलारस नगर के वार्ड क्रमांक 8 में 300 किलो लीटर के ओवहर हेड टैंक का निर्माण कार्य मुख्यमंत्री शहरी पेयजल योजना के अंतर्गत कराया गया था। यह टंकी बीते 16 सिंतबर को अचानक से भर भराकर गिर गई। इस टंकी के जमीदौज होने के कारण इस टंकी के निर्माण कार्य में हुए दफन हुआ भ्रष्टाचार बहार आ गया। 

इस माममे में बीते इस जमीदौज हुई टंकी के मलबे से भ्रष्टाचार के सबूत जुटाने ग्वालियर से उच्चस्तरिय अधिकारियो की एक टीम भी आई थी जांच टीम को प्रथम द्ष्टया देखा की टंकी के निर्माण में उपयोग में लाए गए सरियो की मोटाई टंकी के स्ट्रेचर के अनुरूप नही था। उपयुक्त सरंचना के निर्माण में सरियो की मोटाई कम रखी गई इस कारण ही यह नवनिर्मित टंकी अपना भार सह नही सकी और आसमान की ओर ताक रही यह टंकी चंद पाल में जमीदौज हो गई।

इस मामले में नगरीय प्रशासन आयुक्त निकुंज कुमार श्रीवास्तव ने शोभाराम शर्मा सहायक यंत्री,कार्यालय संभागीय संयुक्त संचालक,नगरीय प्रशासन एंव विकास ग्वालियर संभाग को तत्काल प्रभाब से निलबिंत कर दिया हैं और कोलारस नगर परिषद के तत्कालीन उपयंत्री सुनील कुमार पांडेय वर्तमान पदस्थापना सहायक यंत्री नगर पालिका परिषद शिवपुरी को भी तत्काल प्रभाव से निलबिंत कर दिया हैं। बताया जा रहा हैं इस मामले की जांच जारी है और कई अधिकारी इस लपेटे में आ सकते हैं।