रोजगार सहायक का निधन, साथी कर्मचारियों ने 187200 रूपए जुटाए , सरकार से नहीं मिली कोई सहायता - Pohri News

शिवपुरी। पोहरी जनपद की ग्राम पंचायत नोनेटा खुर्द में पदस्थ रोजगार सहायक मनोज वर्मा का ह्रदय घात से दु:खद निधन हो गया था। चूंकि ग्राम रोजगार सहायक अल्पमानदेय 9000 रुपये पर काम करते है एवं उनकी मृत्यु होने पर उनके परिजनों को मध्यप्रदेश सरकार की तरफ से किसी भी प्रकार की अनुकम्पा और आर्थिक सहायता नही मिली।

जबकि मृतक के परिवार में उसकी पत्नी, 8 वर्षीय बेटी और 6 वर्षीय बेटा भी है। ऐसी स्थिति में रोजगार सहायकों ने मानवता का परिचय देते हुए अपनी ओर से 1 लाख 87 हजार 200 रूपए की आर्थिक सहायता जुटाई और उसे पीडि़त परिवार को दिए।

रोजगार सहायकों ने सरकार से मांग की है कि ग्राम रोजगार सहायकों को भी इस प्रकार की दु:खद घटना होने पर कम से कम 10 लाख रुपए की आर्थिक सहायता एवं अनुकम्पा नियुक्ति दी जाए। जिससे उसके परिवार पर रोजी रोटी का संकट न आये।

यदि ग्राम पंचायत में किसी मजदुर व्यक्ति की म्रत्यु हो तो उसे भी संबल के अंतर्गत 02-04 लाख रुपये  की सहायता मिलती है और योजना का क्रियान्वयन भी रोजगार सहायक ही करता है पर रोजगार सहायक को यह भी लाभ नहीं मिलता ग्राम रोजगार सहायकों ने सरकार से इस ओर ध्यान देने की अपील की है।