लोकसेवा आयोग एवं संघ लोकसेवा आयोग की परीक्षाओं में सफल उम्मीदवारो मिलेगी प्रोत्साहन राशि: ऐसे करें आवेदन / SHIVPURI NEWS

शिवपुरी। विमुक्त, घुमक्कड, अर्द्धघुमक्कड जनजाति वर्ग के उम्मीदवारो को प्रोत्साहन योजना अन्तर्गत म0प्र0 लोक सेवा आयोग एवं संघ लोक सेवा आयोग की सिविल सेवा परीक्षाओं में विभिन्न स्तरो पर सफलता प्राप्त करने वाले उम्मीदवारो को प्रोत्साहन राशि दिए जाने हेतु आवेदन आमंत्रित किए गए है। पात्र उम्मीदवार अपने आवेदन पत्र 27 अगस्त तक सहायक संचालक पिछडा वर्ग तथा अल्पसंख्यक कल्याण विभाग जिला शिवपुरी में मय अभिलेख के जमा करा सकते है। 

पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक कल्याण तथा विमुक्त धुमक्कड़, अर्द्धघुमक्कड़ जनजाति विभाग के सहायक संचालक ने बताया कि अखिल भारतीय, राज्य प्रशासनिक सेवाओं के विमुक्त, घुमक्कड, अर्द्धघुमक्कड जनजाति वर्ग के उम्मीदवारो को प्रोत्साहन योजना संचालित है। इस योजनांतर्गत म0प्र0 लोक सेवा आयोग एवं संघ लोक सेवा आयोग की सिविल सेवा परीक्षाओ में विभिन्न स्तरो पर सफलता प्राप्त करने वाले उम्मीदवारो को प्रोत्साहन राशि दी जाती है।

म.प्र.लोकसेवा आयोग की सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा उत्तीर्ण करने पर 20 हजार रूपए संघ लोक सेवा आयोग की सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा उत्तीर्ण करने पर 40 हजार रूपए तथा म.प्र.लोकसेवा आयोग की मुख्य परीक्षा उत्तीर्ण करने पर 30 हजार रूपए संघ लोक सेवा की मुख्य परीक्षा उत्तीर्ण करने पर 60 हजार रूपए एवं म.प्र.लोकसेवा आयोग के साक्षात्कार में सफल होने पर 25 हजार रूपए संघ लोक सेवा आयोग के साक्षात्कार में सफल होने पर 50 हजार रूपए का वितरण नियमानुसार किया जाएगा।

विमुक्त, घुमक्कड, अर्द्धघुमक्कड जनजाति वर्ग के महाविद्यालयीन स्तर के विद्यार्थियों को आवास जो दूरस्त स्थान के जिला स्तर एवं तहसील स्तर पर निवास करते हो जिनका जिला स्तर एवं तहसील स्तर पर स्वंय एवं परिवार का कोई मकान न हो उन विद्यार्थियों को आवास भाडा भत्ता का प्रदाय किया जाना है।

जिला मुख्यालय पर प्रति विद्यार्थी राशि 1250 रूपए एवं तहसील अथवा विकासखण्ड मुख्यालय एवं अन्य शहरो में राशि 1000 रूपए प्रति विद्यार्थी प्रतिमाह की दर से आवास भाडा भत्ता नियम अनुसार देय होगा।

विमुक्त जाति बस्तियों में विद्युतीकरण योजनान्तर्गत विमुक्त घुमक्कड अर्द्धघुमक्कड जनजाति बाहुल्य बस्तियों, मजरें, टोलो, पारो, डेरो तथा नगरीय बस्तियों में जिनमें इन सुविधाओ का पूर्ण रूप से अभाव हो योजना के दूसरे चरण में ऐसी विमुक्त घुमक्कड अर्द्धघुमक्कड जनजाति बाहुल्य बस्तियों, डेरो में यह कार्य कराया जा सकेगा जिनमें विद्यमान सुविधाएं विमुक्त, घुमक्कड, अर्द्धघुमक्कड जनजाति की जनसंख्या के मान से पर्याप्त नही है क्षेत्रों की पहचान कर बस्तियो में विद्युत लाईन का विकास एवं विस्तार कराया जाना है।

शिवपुरी जिले में निवासरत विमुक्त, घुमक्कड, अर्द्धघुमक्कड जनजाति के उम्मीदवार योजना से सम्बंधित आवश्यक जानकारी विभाग में कार्यालयीन समय में प्राप्त कर सकते है।