भरत रावत को सिंधिया का साथ छोड़ने का दिया इनाम, बनाया गया प्रदेश सचिव / SHIVPURI NEWS

शिवपुरी। शिवपुरी ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष और सिंधिया समर्थक रहे भरत रावत को प्रदेश कांग्रेस सचिव मनोनीत किया गया है। श्री रावत ने अपनी नियुक्ति के लिए कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ तथा कार्यवाहक प्रदेशाध्यक्ष रामनिवास रावत का आभार व्यक्त किया है और कहा है कि पार्टी की मजबूती के लिए वह काम करते रहेंगे।

सिंहनिवास निवासी भरत रावत शिवपुरी जिले की राजनीति में कांग्रेस में रहते हुए कट्टर सिंधिया समर्थक माने जाते थे। सिंधिया की अनुशंसा पर उन्हें शिवपुरी ग्रामीण ब्लॉक कांग्रेस का अध्यक्ष भी नियुक्त किया गया था। सिंधिया के मार्च में कांग्रेस छोडऩे और भाजपा में जाने के बाद भरत रावत ने ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष पद से भी इस्तीफा दे दिया था।

इससे उनके सिंधिया के साथ जाने की संभवना व्यक्त की जा रही थी। लेकिन ग्वालियर में भाजपा सदस्यता अभियान में वह शामिल नहीं हुए। पूर्व सांसद प्रतिनिधि हरवीर सिंह रघुवंशी ने बताया कि सदस्यता अभियान में उनकी अनुपस्थिति से लग रहा था कि वह कांग्रेस में ही बने रहेंगे।

हालांकि सिंधिया के कांग्रेस छोडऩे के बाद वह कहते हमेशा रहे कि मैं महाराज के साथ हूं। लेकिन यह भी सत्य है कि इसके बाद वह सिंधिया जी के किसी भी कार्यक्रम में शामिल नहीं हुए। भ्ररत रावत को कांग्रेस उपाध्यक्ष संगठन चंद्रप्रवास शेखर ने नियुक्ति पत्र जारी करते हुए उन्हें प्रदेश कांग्रेस कमेटी में सचिव मनोनीत किया हैं।