मानवता फिर शर्मसार: दुर्घटना में घायल युवक कचरे के पास मिला, लगातार खून निकल रहा था, कोई सुनने वाला नहीं / Shivpuri News

शिवपुरी। शिवपुरी अस्पताल प्रबंधन की अमानवीयता के कई उदाहरण सामने आते रहते हैं। आज सुबह अस्पताल प्रबंधन का ऐसा ही अमानवीय चेहरा सामने आया है। जहां दुर्घटना में घायल एक मजूदर को डॉक्टरों ने पट्टी बांधकर भर्ती न करते हुए उसे अस्पताल के बाहर नाली के पास लेटा दिया। जिससे घायल मजदूर के पैर से खून निकलता रहा और वह भूखा प्यासा रातभर पड़ा रहा। आज सुबह मीडियाकर्मियों की नजर उस पर पड़ी तो पूरे मामले का खुलासा हुआ और अस्पताल प्रबंधन की एक बड़ी लापरवाही उजागर हुई।

ज्ञात हो कि आज सुबह नर्सो की लापरवाही से एक प्रसूता की जान चली गई। इस घटना को कबर करने के लिए मीडियाकर्मी अस्पताल पहुंचे। जहां अस्पताल के बाहर नाली के किनारे खून से लथपथ एक युवक पड़ा हुआ था। जिससे पत्रकारों ने जानकारी ली तो उसने अपना नाम बलराम आदिवासी निवासी छत्तीसगढ़ बताया। जब उससे पूछा कि ऐसी स्थिति कैसे हुई, तो उसने बताया कि रात में सतनवाड़ा क्षेत्र में एक अज्ञात ट्रक उसको टक्कर मार गया।

जिसे एंबुलेंस की सहायता से रात में ही अस्पताल लाया गया। लेकिन डॉक्टरों ने सिर्फ उसके लगी चोट पर पट्टी बांध दी और उसे भर्ती नहीं किया। अस्पताल के स्टाफ ने रात में ही उसे ट्रामा सेंटर के बाहर नाली के पास लेटा दिया। रातभर से उसके पैर से खून निकल रहा है और किसी ने भी उसे खाने पीने को भी नहीं दिया।