अनलॉक शिवपुरी के लिए कलेक्टर गाइडलाइन जारी / Shivpuri News

शिवपुरी। लॉकडाउन की अवधि बढ़ा दी गई है लेकिन इस दौरान कई गतिविधियों पर में छूट दी गई है। अब होटल, रेस्टॉरेंट खोलने की अनुमति होगी। आठ जून से धार्मिक स्थलों में आमजन का प्रवेश हो सकेगा। इसी के अनुसार जिले की व्यवस्थाओं को लेकर मंगलवार को कोर ग्रुप की बैठक आयोजित की गई।

जिसमें व्यापारियों एवं धर्म गुरुओं से चर्चा की गई। सभी से व्यवस्थाओं को लेकर फीडबैक भी लिया गया। बैठक में उपस्थित सदस्यों द्वारा बाजार खुलने का समय को लेकर भी सुझाव दिया गया।

कलेक्टर श्रीमती अनुग्रहा पी ने कहा है कि अभी कई गतिविधियों में छूट दी गई है। शासन के निर्देशानुसार रात्रि 9 बजे से सुबह 5 बजे तक आवागमन को प्रतिबंधित किया गया है लेकिन अभी कोरोना वायरस से बचाव के लिए सावधानी बरतना बहुत जरूरी है। सभी दुकानों, बाजार एवं अन्य स्थानों पर सोशल डिस्टेंस का पालन जरूर करें और अन्य लोगों को भी जागरूक करें। सभी को निर्देश दिए गए हैं कि दुकानों पर रजिस्टर जरूर रखें।

जिसमें आने वाले ग्राहकों की जानकारी रखी जाए ताकि कोई भी पॉजिटिव केस सामने आता है तो उसके संपर्क में आने वाले व्यक्तियों का पता लगाया जा सके। विशेषकर कपड़ा दुकानों, हेयर कटिंग सैलून सहित जहां ग्राहक अधिक आते हैं वह इसका गंभीरता से पालन करें। उन्होंने कहा है कि जिले में दल गठित किए जाएंगे जिनके द्वारा निरीक्षण कर व्यवस्था देखी जाएगी।

रात्रि 9 के बाद खोल सकते हैं मेडिकल
बैठक में कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने कहा है कि मेडिकल की दुकान रात्रि में 9 बजे के बाद भी खोल सकते है। ताकि अति आवश्यक होने पर लोगों को दवाई मुहैया हो सके।

अस्पताल के बाहर मास्क की दुकान लगाने के निर्देश
कलेक्टर श्रीमती अनुग्रहा पी ने सिविल सर्जन को जिला अस्पताल के बाहर मास्क की दुकान संचालित करने के निर्देश दिए हैं जिससे अस्पताल में आने वाले लोगों को मास्क उपलब्ध कराया जाएगा।

माइक से अनाउंसमेंट
नगरपालिका अधिकारी को निर्देश दिए हैं कि कोरोना वायरस के प्रति जागरूकता, मास्क लगाने और सोशल डिस्टेन्स का पालन करने के लिए माइक से अनाउंसमेंट करायें। कचरा वाहन के अलावा अन्य वाहन लगाकर शहर में लगायें।

धार्मिक स्थलों की व्यवस्थाओं को लेकर धर्मगुरुओं दे चर्चा
बैठक में विभिन्न धर्मों के धर्मगुरुओं से धार्मिक स्थलों पर व्यवस्थाओं के संबंध में चर्चा की गई। शासन के निर्देशानुसार 8 जून से धार्मिक स्थल मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारा और चर्च में आमजन भी जा सकेंगे।

इसलिए सभी धर्मगुरुओं से कहा है कि आस्था के साथ ही कोरोना से बचाव भी जरूरी है। इसलिए लोगो को बताएं और आने जाने का रास्ता अलग रख सकते हैं। बाहर प्रवेश द्वार पर ही लोगों के हाथ धुलाये। सभी लोग सोशल डिस्टेन्स के साथ ही पूजा, प्रार्थना करें।