दहेज के लिए बहु की मारपीट साथ में पति की भी कर दी कुटाई: पति-पत्नि अस्पताल में भर्ती / Shivpuri News

शिवपुरी। खबर सिटी कोतवाली के अंतर्गत आने वाले गांव बछौरा से आ रही हैं जहां कए शिवहने परिवार ने अपनी बहू को इतना मारा की वह अस्तपाल में भर्ती हैंं। साथ ही अपनी पत्नि का साथ दे रहे पति की भी कुटाई उसके परिवार ने कर दी। यह पहला मामला हैं कि दहेज के लिए बहू के साथ बेटे की भी मारपीट कर दी हैं।

बताया जा रहा हैं कि इस मारपीट की घटना को अंजाम घायल युवक के माता-पिता, भाई-भाभी और भतीजी ने दिया। सभी लोग उन्हें घर से भगाने के लिए साजिश रच रहे थे और जब वह इसमें सफल नहीं हो सके तो उन्होंने दोनों की जमकर मारपीट कर दी। आरोप है कि मारपीट और दहेज प्रताडऩा की शिकायत करने जब वह कोतवाली पहुंची तो पुलिस ने सिर्फ अदम चैक काटकर मामले को रफा दफा करने का प्रयास किया। इस कारण पुलिस की कार्रवाई पर सवाल खडे हो रहे हैं।

जानकारी के अनुसार बछौरा निवासी नरेंद्र शिवहरे और उसकी पत्नी गुडिय़ा शिवहरे को उसके पिता पूरन शिवहरे, बड़ा भाई पुरूषोत्तम भाभी कमलेश शिवहरे, मां शांति बाई, गजेंद्र, शशि, जितेंद्र, प्रिया और जया ने आज सुबह डंडों और लात घूसों मारपीट कर दी। पीडि़त दोनों पति पत्नी को परिवार के यह सभी सदस्य घर से भगाने की योजना बना रहे थे और इसीलिए यह सभी लोग आए दिन दोनों को प्रताडि़त करते थे।

मारपीट करने वाले सभी लोग गुडिय़ा से दहेज की भी मांग कर रहे थे। लेकिन पीडि़ता ने उन्हें दहेज देने से भी इंकार कर दिया था। जिस कारण सभी लोग दोनों से नाराज थे और उन्होंने उन्हें तरह-तरह से परेशान करना शुरू कर दिया। पीडि़ता गुडिय़ा शिवहरे का आरोप है कि उनके सास-ससुर व अन्य ससुरालीजनों ने उनके घर में स्थित शौचालयों में ताले लगा दिए थे और उन्हें खाने पीने के लिए भी वह लोग तरसाते थे।

साथ ही उनके पति नरेंद्र शिवहरे को भी वह सभी प्रताडि़त कर रहे थे। सभी लोग चाहते थे कि हम दोनों यह घर छोड़कर कहीं चले जाएं। क्योंकि उनके जेठ, जेठानी और भतीजी मकान पर कब्जा करना चाहती थीं और इसी लोभ के चलते उन सभी ने उनके साथ मारपीट की। इस मामले में पुलिस ने भी उनका साथ नहीं दिया और शिकायत करने के बावजूद भी एफआईआर दर्ज नहीं की।