हाइवोल्टेज ड्रामा: नाबालिगों के चक्कर में धरे गए शादीशुदा, पढिए पूरी कहानी / Shivpuri News

शिवपुरी। खबर शहर के फिजीकल थाना क्षेत्र से आ रही है। जहां दो नाबालिगों के चक्कर में दो शादीशुदा आरोपी गिरफ्तार हुए है। एक साथ गायब हुर्ई दो नाबालिग किशोरीयों के गायब होने से फिजीकल थाना सहित पूरे जिले में हडकंप मच गया। इस मामले की सूचना पर पुलिस सक्रिय हुई है। पुलिस की सक्रियात के चलते दोनों नाबालिग बच गई। इय दौरान यहां हाईवोल्टेज ड्रामा देखने को मिला। 

यह है पूरी कहानी

कक्षा 11 में पढने बाली एक नाबालिग किशोरी उम्र 15 साल निवासी फिजीकल की दोस्ती फतेहपुर निवासी 12 क्लास की छात्र से थी। दोनों साथ में कोचिंग जाते थे। कल शाम को दोनों नाबालिगों ने अपने अपने घर से 1 लाख 80 हजार रूपए चुराए और अचानक गायब हो गई। अचानक गायब हुई दो युवतीयों की सूचना पर पुलिस में हडकंप मच गया।

बताया गया है कि उक्त युवतीयों ने घर से पैसे चुराकर इस लॉकडाउन के दौरान ग्वालियर जाना चाहती थी। परंतु लॉकडाउन के चलते आरोपी सौरभ सोनी अपनी कार क्रमांक एमपी 33 2311 अल्टों से लेकर अपने साथ पडौरा तिराहे पर पहुंचे। जहां आरोपी अपने साथी पंकज तिवारी के साथ मिलकर दोनों को पडौरा तिराहे पर छोडकर घर की स्थिति देखने सौरभ सोनी बापिस आ गया। जहां आकर उक्त युवक ने किशोरी के परिजनों से कहा कि वह उसकी लडकी को खोजने में मदद करेगा।

उसके बाद उक्त आरोपी परिजनों को गुमराह करने के लिए यहां वहां घुमाता रहा। परंतु बात नहीं बनी। इसी दौरान आरोपी फिर से युवतीयों को लेकर पडौरा से कोलारस छोड आया। कोलारस में बजरंग दल के कुछ युवाओं को यह युवतीयां घूमती मिली। जिसपर उन्होंने उससे पूछताछ की तो युवती ने फिर से उनके भाई आ रहे है। उसके बाद युवतीयों ने फिर से आरोपीयों को फोन किया।

जिसपर से आरोपी सौरभ सोनी उम्र 30 साल यहां परिजनों को गुमराह कर भाग गया। उसके बाद युवक का नंबर बंद हो गया। जिसपर से पूरे मामले की जानकारी परिजनों ने पुलिस को दी। पुलिस ने तत्काल नंबर लोकेशन में डलबाया। उसके बाद परिजनों के पास उक्त आरोपी का फोन आया कि आपकी बदनामी होगी पुलिस को मत बताओं मुझे दोनों लडकियां मिल गई है। में उन्हें लेकर बाजाजीधाम मंदिर के पास पहुंच रहा हूं।

जिसपर से पुलिस सिविल ड्रेस में वहां खडी हो गई। परंतु आरोपी लंबे समय तक परिजनों को गुमराह करता रहा। तब तक नंबर की लोकेशन ट्रेस हो गई। यह लोकेशन बडौदी क्षेत्र में आई। जिसपर से पुलिस ने घेराबंदी कर उक्त कार की तलाश की। जैसे ही फतेहपुर पर यह गाडी आती दिखाई दी पुलिस ने घेराबंदी कर आरोपीयों को हिरासत में ले लिया। साथ ही दोनों किशोरीयों को सकुशल छुडा लिया।

थाना प्रभारी सुनील खेमरिया ने बताया है। दोनों आरोपीयों में से एक पंकज तिवारी ने नाबालिगों के साथ कार में ही गंदी हरकतें की। जिसपर से एक आरोपी ने लडकीयों को पहचान होने की बात कहकर उसे छोड दिया। इस मामले में पुलिस ने दोनों आरोपीयों पर मामला दर्ज कर न्यायालय में पेश किया। जहां से दोनों को माननीय न्यायालय ने जेल भेज दिया।