पढिए शहर के लोगों ने क्या जनता कफ्यू के दौरान क्या किया | Shivpuri news

शिवपुरी । आज माननीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आव्हान पर कोरोना से लडने के लिए जनता कफ्यू का आव्हान किया था। जिसमें लोगों को घर से बाहर निकलने से रोकने का आव्हान किया गया था। जिसके चलते आज भारत के इतिहास में पहली बार 100 प्रतिशत बंद हुआ। इसका पूरा असर शिवपुरी में भी देखने को मिला। यहां लोग आज पूरे दिन अपने घरों में ही रहे। किसी ने अपने घर पर खाना बनाने में पत्नि की मदद की। तो कोई अपने बच्चों के साथ घर पर लूडो खेलते दिखे।

इस दौरान शिवपुरी समाचार डॉट कॉम ने लोगों से प्रतिक्रिया लेने के लिए फैसबुक पर पोस्ट की। जिसमें लोगों से आज दिन भर के काम की प्रतिक्रिया चाही गई। जिसमें शिवपुरी समाचार डॉट कॉम के पाठक मोनू जैमनी ने बताया कि उसने घर पर आज पीएम मोदी के आव्हान पर भोपू बजाया। इसके साथ ही अकरम शाह ने बताया कि वह आज पूरे दिन घर पर सोते रहे। हमारे पाठक भूपेन्द्र अवस्थी ने बताया कि उन्होंने आज पूरे दिन रूम में बैठकर भारत बासियों को मोबाईल के जरिए जनता कफ्यू को सफल बनाने के लिए जागरूक किया।

हमारे पाठक अनुराग जैन ने बताया कि उन्होंने पूरे दिन टिकटॉक बनाया। इसके साथ ही हमारे पाठक अन्नूू तोमर ने अपनी पत्नि पूजा तोमर के साथ दाल टिक्कर बनाने में मदद करते हुए का फोटो भेजा। इसके साथ ही लखन बघेल ने बताया कि उन्होंने खेत में चना की कटाई की। हमारे पाठक नेपाल बघेल ने बच्चे की वीडियों डालकर बताया कि उन्होेने आज बच्चों के साथ मस्ती की। हमारे पाठक भूपेश बंसल ने बताया कि वह आज घर के अंदर ही रहे। बाहर नहीं निकले।

इसके साथ ही पाठक नरौत्तम मारौरा ने बताया कि उन्होंने पूरे दिन राम का नाम लिया। पाठक रमन शर्मा टौरिया ने बताया कि उन्होने पास में स्थिति पार्क में मस्ती की। हमारे पाठक मनोज भार्गव ने बताया कि वह पूरे दिन अपने बेटे के साथ मस्ती करते रहे। शाम को पांच बजे उन्होंने भोपू बजाया। हमारे साथी मयंक शर्मा ने बताया कि उन्होंने अपने साथीयों एक मित्र के साथ शराब पी।

पाठक धमेन्द्र पाठक ने बताया कि उन्होंने सभी के हित के लिए हनूमान चालीसा के 108 पाठ कर हबन किया। नीरज गोयल ने बताया कि उन्होंने घर में पूजा की। इसके साथ ही पाठक रानू रघुवंशी ने बताया कि उन्होंने अपने घर में भजन और भोजन किया। उसके बाद उन्होने अपने बेटे के साथ मस्ती की। हमारे संबाददाता हार्दिक गर्ग कोलारस ने बताया कि हमने पूरे दिन मार्केट में शांति देखी। उसके बाद घर आकर सो गए। हमारे लुकवासा संवाददाता मुकेश रघुवंशी ने बताया कि उन्होने आज लगभग 50 लोगों को जागरूक किया। लोगों को बताया कि यह बीमारी खतरनाक है ऐतिहात बरते और घरों में बंद रहे।

हमारे पोहरी संवाददाता अभिषेक शर्मा ने बताया है कि दिन भर हाथ धोए और घर में रहा। आज दूध नहीं मिला तो में अपनी भैया भाभी के पास दूध पीने आया हुआ हूं। बैराड निवासी जितेन्द्र शर्मा ने बताया कि उन्होंने गांव में पहुंचकर इस बीमारी से बचने के तरीके लोगों को बताए। शिक्षक सुनील उपाध्याय ने बताया कि उन्होंने अपने बेटे नमन के साथ पूरा दिन घर पर ही बिताया। इसके साथ सुनील राजौरिया टौरिया ने बताया कि उन्होने पूरे दिन गांव में लोगों को इस घातक बीमारी के बारे में बताया। लोगों को समझाया कि वह जब तक इससे शांति नहीं मिले गांव से बाहर नहीं जाए।