तीन गुनी रेट पर सब्जी बेच रहा था युवक, POLICE ने पकड लिया, CMO ने गलियों मेंं पहुंचकर की सब्जी विक्रेताओं की मॉनीटरिंग

शिवपुरी। प्रशासन और सब्जी विक्रेताओं के बीच कल हुई बैठक के बाद शहर में कफ्र्यू के दौरान सब्जी की उपलब्धता कराने के लिए बनी रणनीति के अनुसार आज ठेले पर सब्जी बेचने वाले लोगों को थोक सब्जी मंडी से सब्जी खरीदकर गलियों में बेचनेे की अनुमति दी गई। जिसका सब्जी विक्रेताओं ने भरपूर लाभ उठाया और सब्जियों को दो से तीन गुने रेटों में बेचा।

इस दौरान कस्टम गेट पर सब्जी बेच रहे एक सब्जी विके्रता भरोसी को 7 रूपए किलो के टमाटर 40 रूपए किलो में बेचते हुए पुलिसकर्मियों ने पकड़ लिया। वहीं मौके पर थोक सब्जी विक्रेता संघ के जिला अध्यक्ष इरशाद राईन भी पहुंच गए। जिन्होंने सब्जी विक्रेता को पकडक़र कोतवाली में बैठा लिया। बाद में उसे समझाईश देकर छोड़ दिया।

इस दौरान थोक सब्जी विक्रेता संघ के अध्यक्ष इरशाद राईन ने शहर में ठेलों पर सब्जी बेचने वाले विक्रेताओं को चेतावनी दी है कि अगर वह सब्जियों के दाम बढ़ाकर सब्जियों को विक्रय करते हुए पकड़े गए तो उन सब्जी विक्रेताओं के लायसेंस निरस्त कर उन्हें थोक सब्जी मंडी से सब्जी की उपलब्धता बंद कर दी जाएगी।

जानकारी के अनुसार सुबह करीब 9 बजे के लगभग ठेला चालक भरोसा कस्टम गेट पर कॉलोनी में सब्जी बेच रहा था। उसी समय एक ट्रेफिककर्मी वहां से गुजरा जिसने ठेले पर सब्जी के भाव तलाशे तो भरोसा ने टमाटर की कीमत उन्हें 40 रूपए किलो बताई और आलू के दाम भी 40 रूपए। जिस पर ट्रेफिककर्मी ने उसे पकड़ लिया। बाद में थोक सब्जी विक्रेता संघ के जिला अध्यक्ष इरशाद राइन भी वहां आ गए।

जिन्होंने बताया कि थोक मंडी से ठेले वालों को टमाटर 7 से 8 रूपए प्रतिकिलों दिए जा रहे हैं और सब्जी विक्रेताओं के द्वारा बाजार में सब्जी के दाम इतने बढ़ा दिए कि लोग परेशान हो रहे हैं। इसके बाद ट्रेफिककर्मी की सहायता से श्री राईन ठेला सहित ठेला चालक को कोतवाली लेकर आ गए।

इस दौरान उसे पुलिसकर्मियों ने समझाईश दी कि उसने अगर भविष्य में सब्जी के दाम बढ़ाकर लिए तो उसकी सारी सब्जी जप्त कर उसके खिलाफ आपराधिक प्रकरण दर्ज किया जाएगा। बाद में सब्जी विक्रेता ने अपनी गलती को स्वीकार कर तय दामों में सब्जी बेचने का आश्वासन दिया। इसके बाद पुलिस ने उसको छोड़ दिया।

थोक मंडी में इन दामों में उपलब्ध है सब्जी

जिलाध्यक्ष इरशाद राईन ने जानकारी देते हुए बताया कि थोक सब्जी मंडी में सब्जियों के दाम पूर्व की तरह ही हैं और सब्जी विक्रेता मंडी से सब्जी खरीदने के बाद 5 से 8 रूपए ग्राहक से अधिक लें सकते हैं। थोक सब्जी मंडी में सब्जियों के दाम इस प्रकार हैं- आलू 16 रूपए से 20 रूपए, मटर 22 रूपए से 23 रूपए, फूल गोभी 10 रूपए, पत्ता गोभी 10 रूपए, तोरई 25 रूपए, करेला 25 रूपए, टमाटर 7 से 8 रूपए, मिर्ची 20 रूपए, प्याज 15 रूपए, धनियां 20 रूपए कद्दू 6 रूपए, लोकी 10 रूपए प्रतिकिलो के हिसाब से सब्जी विक्रेताओं को दी जा रही है और सब्जी विक्रेता इन दामों में 5 से 8 रूपए का मुनाफा कमा सकते हैं।

सस्ती सब्जी खरीदकर महंगी बेच रहे हैं ठेले वाले

सब्जी मंडी से सब्जी बेचने वाले ठेला चालक कम दामों में सब्जी खरीद रहे हैं और दो गुना से पांच गुना तक मुनाफा कमा रहे हैं। जो आलू उन्हें 16 से 20 रूपए उपलब्ध हो रहे हैं। वह उन्हें बाजार में 35 से 40 रूपए के हिसाब से बेच रहे हैं। टमाटर 7 रूपए से 8 रूपए में खरीदकर उन्हें 40 रूपए किलो तक ग्राहकों को दे रहे हैं। इसी तहर गोभी 40 रूपए में, मटर 60 रूपए, लोकी 30 रूपए, भिंडी 40 रूपए और मिर्ची 60 रूपए किलो में ग्राहकों को मिल रही है।

सब्जी के दाम बढ़ाकर बेचने वाले सब्जी विक्रेताओं की जानकारी इन नंबरों पर दें

थोक सब्जी विक्रेता संघ के अध्यक्ष इरशाद राईन ने लोगों से अपील की है कि कोई भी सब्जी विक्रेता अगर दो गुना से पांच गुना तक की कीमत वसूलता है तो वह इसकी शिकायत उनके मोबाइल नम्बर 9179602987 पर कर सकता है। जिस पर वह कार्रवाई करने के लिए मौके पर पहुंचेंगे और ऐसे सब्जी विक्रेताओं के खिलाफ पुलिस में भी शिकायत दर्ज कराएंगे। उन्होंने सब्जी विक्रेताओं से अपील की है कि वह इस तरह का कोई भी कृत्य न करें। जिससे लोगों का भरोसा सब्जी विक्रेताओं से उठ जाए और तय दामों में ही सब्जियों को विक्रय करें।