दिव्यांग विद्यार्थियों को लोडिंग वाहन में जानवरों की तरह ठूंस कर GWALIOR MELA ले गए

शिवपुरी। खबर शिवपुरी—ग्वालियर के बीच की सडको से आ रही हैं। जहां एक लोडिंग वाहन में कुछ दिव्यांग बच्चो को ठूसकर एक लोडिंग वाहन सडको पर दौडता देखा। बताया गया हैं कि यह लोडिंग शिवपुरी के एक सीडब्ल्यूसीएन के छात्रावास के बच्चो को ग्वालियर का मेला दिखाकर लौट रहा था। बच्चे लोडिंग में इस कारण बैठे मिले की बस की अपेक्षाकृत इसका किराया कम था,लेकिन इस लोडिंग में बच्चो की सुरक्षा और सर्दी लोडिंग में बस् से अधिक थी।

बताया जा रहा हैं कि  फतेपुर में सीडब्ल्यूसीएन छात्रावास संचालित है। 50 सीटर छात्रावास में रहने वाले दिव्यांग बच्चों की जिम्मेदारी एसएम विकलांग शिक्षा कल्याण समिति ग्वालियर द्वारा ली गई है। छात्रावास में रहने वाले बच्चों को शनिवार को ग्वालियर मेला दिखाने के लिए शिवपुरी से एक लोडिंग वाहन में बैठाकर ले गए।

मेला दिखाने के बाद वापस इसी लोडिंग वाहन से बच्चों को शिवपुरी लाया गया है। रास्ते में मिले कार सवारों ने लोडिंग पर बच्चों को ले जाते देख लिया और लोडिंग को रास्ते में रुकवाया तो अंदर 15-20 दिव्यांग बच्चे बैठे हुए मिले,उन्होने इस लोडिंग फोटो खिचे और शिवपुरी की मीडिया को इस मामले से अवगत कराया।

दो लोडिंग ले गए थे, एक रास्ते में खराब हो गई
दो लोडिंग भेजी थीं। रास्ते में लौटते वक्त एक लोडिंग खराब हो गई थी। इसलिए ग्वालियर से आ रही सब्जी की दूसरी लोडिंग मिल गई। वह वार्डन का परिचित था, इसलिए बच्चों को बिठाकर ला रहा था। रामधुन सिंह राठौर, एनजीओ अध्यक्ष

नोटिस जारी किया है
डीपीसी द्वारा एनजीओ को नोटिस जारी कर जवाब मांगा जा रहा है। लापरवाहों पर कार्रवाई की जाएगी। हरीश शर्मा, एपीसी, जिला शिक्षा केंद्र शिवपुरी