मिनी शिमला बना शिवपुरी, छुट्टी पर सूर्यदेव, कोहरे के बीच स्कूल पहुंचे नन्ने मुन्ने | Shivpuri News

शिवपुरी। कल सुबह 8.30 से शुरू हुई बारिश गुरूवार की सुबह तक थमने का नाम नही लिया। रूक- रूक कर हो रही बारिश से ठंड का असर बड गया। जिसके चलते शिवपुरी मिनी शिमला बन गया। दिन और रात का पारा एक ही हो गया। लेकिन बुधवार की रात होने वाली शादियों में काफी परेशानी का सामना करना पड़ा वहीं दूसरी ओर इस बारिश से जहां फसले में गेंहू व चने की फसल में पानी लगने से एक तरफ किसानों के चेहरे खिले हुए दिखे तो दूसरी ओर सरसों की फसल में फूल आने से मामूली नुकसान बताया जा रहा हैं।

जिससे किसान अब यह कहते हुए देखा गया कि अब इतना सबकुछ होने बाद वादल साफ हो जायें लेकिन गुरूवार को भी वादल साफ नहीं हुए जिससे किसान चिंतत भी नजर आए वहीं शहर में अवकाश के दिन जैसा नजारा देखने को मिला। हालात यह रही कि सुबह कोहरे के बीच मासूम स्कूल पहुंचे। दो दिन से सूर्यदेव छुट्टी पर है।

जानकारी के अनुसार शिवपुरी शहर में बुधवार की सुबह 8.30 बजे पांच मिनट तेज बारिश हुई और बूंदाबांदी के साथ थम गई। दोपहर के 12 बजे आसपास हल्की धूप निकली, लेकिन फिर से घने बादल छाने लगे और 1 बजे के बाद बारिश का सिलसिला शुरू हो गई, आधा घंटे बारिश होने के बाद देर शाम तक मामूली बूंदाबांदी होती रही,जो रात 9 बजे तेज बारिश में बदल गई ओर सुबह तक रूक-रूक कर बारिश होती रही।

बादल छाने और बारिश के कारण अधिकतम तापमान 19 डिग्री पर पहुंच गया है, जो मंगलवार को 22 डिग्री सेल्सियस था। वहीं न्यूनतम तापमान 12 डिग्री दर्ज किया है। रात में बादलों के कारण रात के पारे में उछाल आया है। वहीं गुरूवार को सुबह से हल्की फुल्की बारिश लेकिन 10 बजे एक बार फिर झमाझम बारिश होने लगी और दिन भर मिनी शिमला के रूप में शिवपुरी का नजारा बना रहा। दिन भर भगवान सूर्य देव के दर्शन नहीं हो सके लोग घरों में कैद रहे हैं। और अलाव का सहारा लेते रहे। वहीं गुरूवार 18 डिग्री सेल्सियस के साथ न्यूतम तापमान 9 डिग्री दर्ज किया गया।

कडक़ड़ाती सर्दी में पानी के बीच स्कूल पहुंचे नौनिहाल

पिछले दो दिनों से मौसम में आए बदलाव के कारण हुई बारिश ने एकाएक पुन: सर्दी बड़ा दी हैं। लेकिन जिलाधीश अनुग्राह पी को यह सर्दी नहीं दिखाई दी। पिछले दो दिनों से हो रही झमाझम बारिश के बीच नौनिहाल बच्चे, कपकपाते हुए अपनी स्कूल बसों के माध्यम से स्कूल पहुंचे।

जबकि पालक ने नाराजगी व्यक्त करते हुए बताया कि जब मामूली सी सर्दी थी तब जिला प्रशासन ने तीन दिन का अवकाश घोषित कर दिया था, लेकिन अब बारिश होने के साथ-साथ मौसम ठंडक हो जाने के बाद भी अवकाश घोषित नहीं किया। जिससे पालकों में काफी नाराजगी देखी जा रही हैं। वहीं इस संबंध जब जिलाधीश अनुग्राह पी से फोन पर चर्चा की तो उनका कहना था कि जिन अभिभावकों को अपने बच्चे स्कूल नहीं भेजना चाहते हैं तो नहीं भेजे स्कूल समय में कोई परिवर्तन व छुट्टी नहीं की जाएगी।

सिल्लारपुर विद्यालय के नहीं खुले आज ताले

शिवपुरी जिले के करैरा तहसील के अंतर्गत आने वाले सिल्लारपुर का यह प्राथमिक विद्यालय आज गुरुवार को इसमे पूरे दिन ताला डला रहा खुला ही नही आदिवासी वस्ती के बीच है यह स्कूल संचालित हैं। ग्रामीणों ने बताया कि सर्दी के कारण शिक्षकों ने भी अवकाश मना लिया। इसके कारण शाम 4 बजे तक विद्यालय के ताले भी नहीं खुल सके।

इनका कहना हैं
शिवपुरी जिले में बुधवार को हुई बारिश से रबी सीजन की फसलों को फायदा है। असिंचित फसलों को पानी मिलने से पैदावार में इजाफा होगा। गेहूं की पैदावार ले रहे किसानों को फायदा है। लेकिन अब यूरिया की डिमांड जरूर बढ़ जाएगी।
यूएस तोमर, उप संचालक, किसान कल्याण एवं कृषि विकास विभाग जिला शिवपुरी