प्रसव केन्द्र पर लगा लटका था ताला, इंतजार में बैैैठी रही प्रसूता, जानलेवा ठंड में खुले में जन्मी लाडो | Shivpuri news

शिवपुरी। खबर जिला मुख्यालय के पास के गांव मुढेरी गांव से आ रही हैं,जहां सुरक्षित प्रसव के लिए तैयार किया गया मुढेरी प्रसव केन्द्र पर सुबह 9 बजे ताला लटका था। और प्रसूता दर्द से तडपती प्रसूता बहार बैठी थी। इस जानलेवा ठंड में अचानक प्रसूता को प्रसव पीडा और बढ गई और उसने प्रसव केन्द्र के बहार ही लाडो को जन्म हो गया। यह तस्वीर जिले के स्वास्थय विभाग के गाल पर एक तमाचा जैसी हैै।
 
जानकारी के मुताबिक सुरक्षा (22) पत्नी लोकेंद्र यादव निवासी गद्द को प्रसव पीड़ा के चलते पति बाइक पर बिठाकर सुबह 9 बजे प्रसव केंद्र मुढेरी लाया। यहां केंद्र के गेट पर ताला जड़ा हुआ था। इंतजार करते हुए 9.30 बज गए और इसके बाद तेज प्रसव पीड़ा होने से सुरक्षा का जमीन पर ही असुरक्षित प्रसव हो गया।

जिसमें बेटी को जन्म दिया है। प्रसव के बाद भी प्रसूता अपनी नवजात के साथ गेट के बाहर केंद्र खुलने के इंतजार में बैठी रही। तभी गांव वाले इकट्ठा हो गए और पता चला कि गांव में एक व्यक्ति के घर चाबी रखी है। लोग चाबी ले आए और परिजन खुद ही सुरक्षा व उसकी बच्ची को अंदर ले गए और पलंग पर लिटा दिया। वहीं एएनएम विमला शर्मा ने बताया कि सूचना मिले ही पहुंची और स्थिति संभाली।

डाक लगाने गईं थीं विमला, जबकि दो अन्य एएनएम पूरे दिन नहीं आईं: असुरक्षित प्रसव की सूचना पर विमला मौके पर आ गईं थीं। विमला का कहना है कि वे मंगलवार शाम कागज देने सतनवाड़ा आईं थीं। रात अधिक हो जाने से प्रसव केंद्र नहीं जा सकीं।

वहीं असुरक्षित प्रसव की घटना के बाद दो अन्य एएनएम सोनम राजपूत व उत्तरा राय नहीं आईं। साथ ही एमपीडब्ल्यू प्रदीप कटारे का भी पता नहीं चला। यदि एमपीडब्ल्यू कागज देने चला जाता तो एएनएम विमला शर्मा प्रसव केंद्र पर रहतीं और असुरक्षित प्रसव नहीं हाेता।

लापरवाहों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे
इन दिनों टीकाकरण भी नहीं चल रहा है, दो और एएनएम मुढेरी में पदस्थ कीं हैं। लापरवाह एएनएम व एमपीडब्ल्यू को नोटिस जारी कर कार्रवाई की जाएगी।
 डॉ. एएल शर्मा, सीएमएचओ शिवपुरी