झोलाछाप डॉक्टर गिर्राज श्रीवास्तव के इंजेक्शन से युवक की मौत | kolaras news

कोलारस। जिले में प्रशासन झोलाछाप डॉक्टरो पर बंदिश नही लगा पा रहा हैं। झोलाछाप डॉक्टर लगातार यम के दूत की भूमिका निभा रहे है,यम के दूत बने लुकवासा के एक झोलाछाप डॉक्टर ने एक मरिज के यहां इजेक्शन लगाया,इसके बाद मरिज की मौत होने की खबर आ रही हैंं

जानकारी के अनुसार कोलारस थाने के अतंर्गत आने वाले लुकवासा चौकी के सीमा में आने वाले गांव रिजौदा निवासी गणेशराम बाथम उम्र 24 साल पुत्र रामबाबू बाथम को कल दोपहर अचानक से तबीयत बिगड गई। वहां ईलाज कराने लुकवासा कस्बे के झोला छाप डॉक्टर गिर्राज श्रीवास्तव के यहां पहुंचा।

बताया जा रहा हैं कि गणेशराम को तेज बुखार था और डॉक्टर ने उसे तेज बुखार में ही इंजेक्शन लगा दिया और गोली दवांई देे कर घर जाने को कहा। गणेशराम घर पहुंचा जैसे ही उसकी तबीयत अचानक से फिर खराब होने लगी।

लेकिन इस बार वहां ईलाज के लिए वहा नही आ पाया उसकी घर पर ही मौत हो गई। परिजनो ने इसकी सूचना लुकवासा चौकी पुलिस को दी,पुलिस ने इस मामलें में विवेचना शुरू कर दी हैं। कल शाम को मृतक का पीएम नही सका। आज कोलारस में मृतक को पीएम के लिए लाया गया हैं। परिजनो ने बताया कि झोलाछाप डॉक्टर के गलत ईलाज के कारण ही मरिज की जान गई हैंं।

परिजनो ने इस डॉक्टर पर कार्रवाई की मांग की हैं। बताया यह भी जा रहा है कि इस झोलाछाप डॉक्टर ने पिछले साल भी एक महिला के ईलाज के दौरान प्राण हर लिए थे। प्रशासन ने इस पर कार्रवाई करते हुए इसकी दुकान शील्ड कर दी थी।

इस प्राण हर डॉक्टर ने दूसरी दुकान खोलकर अपना क्लीनिक शुरू कर दिया था। अब इस डॉक्टर ने आज फिर एक मरिज को शमशान का रास्ता दिखा दिया। अब इस पूरे मामले में देखने वाली बात यह होगी। प्रशासन अब क्या कार्रवाई करेगा।

इनका कहना हैं
मामला सूनने में आया हैं बीएमओ को बोल दिया गया हैं कि इस डॉक्टर पर कार्रवाई कर इसकी दुकान सील कराई जाए। इस झोलाछाप पर एफआईआर दर्ज करने की कार्रवाई की जावेगी।
डॉ अर्जुनलाल शर्मा,सीएमएचओ शिवपुरी