मदद के नाम पर ठगी का नया फॉर्मेट: पिछोर के शिक्षक की ID हैक कर मांगे पैसे

शिवपुरी। आनलाईन ठगी के बिजनिस में प्रतिदिन नए सेगमेंट निकल कर आ रहे है। शातिर ठग अलग-अलग योजना बनाकर लोगो को ठगने का प्रयास कर रहे है। ऐसा ही एक मामला पिछोर से आ रहा है। जहां एक शिक्षक का एफबी एकाउंट हैग कर उसके दोस्तो से ईलाज के नाम पर पैसे मांगें जा रहे हैं।  

 जानकारी अनुसार विनोद कुमार पाठक निवासी पिछोर पेशे से सरकारी शिक्षक हैं। नगर में समाजसेवक के रूप में उनकी पहचान है। शिक्षक के मोबाइल नंबर 9425488817 से विनोद ने अपना फेसबुक पर अकाउंट बनाया है। इस फेसबुक अकाउंट को किसी ने हैक कर लिया और साथी शिक्षक मित्रों को मैसेज भेजकर आर्थिक मदद मांगने लगा। फेसबुक दोस्तों को बताया कि मेरा दोस्त आईसीयू में भर्ती है। मैं फोन पर बात नहीं कर सकता, कुछ पैसों की आवश्यकता है।

आप खाता नं. 919125185490 में पैसे डाल दें। किसी से 15 हजार तो किसी से 10 हजार रुपए तो किसी से 50 हजार तक खाते में डालने का निवेदन किया। अज्ञात बदमाश ने शिक्षक के दोस्त हृदेश पाठक, देवेन्द्र पाठक, राजीव नीखरा आदि फेसबुक दोस्तों से ठगी करने की कोशिश की।

मोबाइल पर बात नहीं करने पर दोस्तों को हुआ शक
शिक्षक विनोद पाठक की आईडी से फेसबुक पर मैसेज आए तो लोगों को भरोसा हो गया। मदद करने के लिए लोग तैयार हो गए। लेकिन जब मोबाइल पर बात करने का जिक्र आया तो वह इसके लिए तैयार नहीं हुआ। दुर्घटना में घायल दोस्त की मदद के लिए पैसे खाते में भेजने की कहने लगा।

बाद में शिक्षक से बात की तो पता चला कि वह घर पर हैं, कोई भी साथी हादसे में घायल नहीं है। बता दें कि ठग ने 919125185490 से पेटीएम पर बचत खाता खोला, जिसका आईएफएससी कोड भी रहता है।

पोल खुली तो उसने खाता ही खत्म कर दिया है। पेटीएम में यह अकाउंट किसी टेलू रघुविंदर राव के नाम से खुला था। बाद में संबंधित मोबाइल नंबर डायल करने पर किसी प्रमोद राज का नाम आ रहा है।अब मोबाइल बंद है।

मैसेज पढ़कर घर पहुंचे, तब पता चला आईडी हैक हुई है

मैसेज पढ़कर पिछोर में रहने वाले कुछ लोगों ने मामले को गंभीरता से लिया और विनोद पाठक के घर पर पहुंच गए। यहां पहुंचे तो शिक्षक पाठक ने बताया कि मुझे भी कई दोस्तों के फोन आए हैं, जिसमें उन्होंने बताया कि मेरे द्वारा फेसबुक आईडी पर मैसेज भेजकर पैसों की मांग की है।

जबकि यह गलत है, मैने किसी से पैसे नहीं मांगे। बाद में पता चला कि किसी ने फेसबुक अकाउंट हैक कर लिया है। वहीं पिछोर थाना प्रभारी अजय भार्गव का कहना है कि शिकायत पर मामले की जांच करा रहे हैं।