कंजरो का आतंक:कच्ची दारू और मोर का शिकार,छात्राओ के साथ अभद्रता,धरने पर बैठे ग्रामीण | karera News

करैरा। खबर जिले के करैरा तहसील के एसडीओपी कार्यालय से आ रही हैं जहां खडीचा गांव के ग्रामीण स्थानीय कंचरो के आतंक से परेशान होकर धरने पर करीब सौ ग्रामीण आ बैठे। बताया जा रहा हैं कि कजंर राष्ट्री पक्षी मोर का शिकार कर खा जाते है। कच्ची दारू बेचते हैं और महिलाओ और स्कूली छात्राओ के साथ अभद्रता करते है।

पुलिस के समझाने के बाद भी ग्राीमण धरने से नही उठे। एसडीएम अरविंद बाजपेयी रात 8 बजे ग्रामीणों के पास पहुंचे। ग्रामीणों ने लिखित आश्वासन की मांग रखी। एसडीएम ने लिखित में कार्रवाई का आश्वासन दिया, इसके बाद ग्रामीण धरने से उठे और गांव लौट गए।

खड़ीचा गांव से पूर्व सरपंच भारत सिंह रावत ने बताया कि कंजरों की वजह से पूरा गांव परेशान है। मोर को मारकर खा जाते हैं। रोकते हैं तो मरने मारने पर उतर आते हैं। यही नहीं कच्ची शराब बनाकर बेचते हैं और खुद भी पीते हैं। गांव की लड़कियां हाईस्कूल फतेहपुर पढ़ने के लिए जाती हैं तो रास्ते में कंजरों के लड़के अभद्रता करते हैं। इससे पूरा गांव परेशान हैं।

शनिवार को कंजरों से 50 लीटर कच्ची शराब, बंदूक और बाइक पकड़कर पुलिस के सुपुर्द कर दी थी। पुलिस वालों ने मंदिर पर कसम खाई कि हम ठोस कार्रवाई करेंगे, लेकिन मामूली धाराओं में केस दर्ज कर लिया। इसलिए मजबूर होकर गांव वालों ने धरना दिया। एसडीएम ने आठ दिन में कार्रवाई का आश्वासन दिया है।