थमें ट्रको के पहिए, कम होगी व्यापार की रफ्तार, वैट और टैक्स के कारण ट्रक यूनियन की हडताल | Shivpuri News

शिवपुरी। प्रदेश सरकार ने डीजल और पेट्रोल पर 5 फीसदी वैट बढ़ाया है। साथ ही नवीन वाहन पंजीयन शुल्क बढ़ाने से ट्रक मालिक विरोध में उतर आए हैं। अलग-अलग ट्रक यूनियनों के आव्हान पर ट्रक मालिक अपने ट्रक खड़े कर रहे हैं।

रविवार को शिवपुरी में भी 350 ट्रकों के पहिए थम गए हैं। ट्रक मालिकों की हड़ताल की वजह से शिवपुरी जिले में दीपावली त्यौहार पर कारोबार प्रभावित होने की संभावना है। शिवपुरी के लोक ट्रक ट्रांसपोर्ट यूनियन अध्यक्ष अब्दुल रफीक अप्पल का कहना है कि यूनियन के माध्यम से 5 अक्टूबर को परिवहन मंत्री गोविंदसिंह राजपूत से भी मुलाकत की, लेकिन उन्होंने समाधान नहीं निकला।

इसलिए पूरे मध्यप्रदेश में ट्रकों के पहिए थम रहे हैं। इंदौर से शिवपुरी आने वाले ट्रकों को भी रोका जा रहा है। जिससे दीपावली त्योहार पर कारोबार प्रभावित हो सकता है। ट्रक मालिकों का कहना है कि 22 जुलाई से नवीन वाहन पंजीयन शुल्क 8% आजीवन शुल्क अनिवार्य करने से वाहन स्वामियों को नुकसान है।

पुराने कमर्शियल वाहन जो 28 हजार किलो भर आते हें, जिसका अनिवार्य आजीवन शुल्क 30 सितंबर 2011 तक के 3500 रुपए एवं उससे पुराने 2500 रुपए प्रतिदिन पंजीयन शुल्क ट्रक मालिकों के लिए असहनीय है।