दशहरा:शस्त्रों का होगा पूजन,काली माता पर 40 तो हंस बिल्डिंग पर 30 फीट के रावण का होगा दहन

शिवपुरी। कल दशहरा पर्व पूरे जिले भर में धूमधाम और परंपरागत तरीके से मनाया जाएगा। जहां घर घर शस्त्रों और वाहनों की  पूजा की जाएगी। साथ ही लोग दशहरा मिलन के कार्यक्रम भी आयोजित करेंगे और रात्रि में जगह जगह रावण के पुतलों का दहन किया जाएगा। जिसमें 3 स्थानों सिद्धेश्वर मेला प्रांगण, काली माता मंदिर प्रांगण पर 40-40 फीट के रावण के पुतले दहन होंगे।

वहीं हंस बिल्डिंग चौराहा पर मुख्य रूप से 30 फीट के रावण के दहन का कार्यक्रम आयोजित  होंगे। इन स्थानों पर रंगारंग आतिशबाजी आकर्षण का केंद्र रहेगी वहीं शहर में निकाले जाने वाले  जुलूस भी इस  बार खास आकर्षण का केंद्र रहेंगे। पंजाबी परिषद द्वारा निकाले जाने  वाले जुलूस  में राजस्थान के गंगानगर से आने वाले ढोल  लोगों को मंत्रमुग्ध करेंगे  वहीं नरसिंह दरबार उत्सव समिति द्वारा निकाले जाने वाले जुलूस का  आकर्षण भगवान नृसिंह की झांकी रहेगी।

कलेक्टर और एसपी की उपस्थिति में पंजाबी परिषद करेेगी रावण का दहन

दहन का कार्यक्रम शाम 7 बजे कलेक्टर अनुग्रहा पी. और एसपी राजेश सिंह चंदेल के मुख्य आतिथ्य में पंजाबी परिषद द्वारा सिद्धेश्वर मेेला प्रागंड में प्रारंभ होगा।  इससे पूर्व न्यू ब्लॉक में स्थित कुटिया से भव्य जुलूस निकाला जाएगा। जिसमें राम-लक्ष्मण, सीता, हनुमान और रावण के भेष में युवा कलाकार मौजूद रहेंगे साथ ही इस बार पंजाबी परिषद के सदस्यों ने नन्ने मुन्ने बच्चों को भी भगवान के भेष में शामिल करने का निर्णय लिया हैं।

जिन्हें उनके माता पिता श्रृंंगार कर चल समारोह में शामिल कर सकते हैं साथ ही गंगानगर से आए ढोल इस बार चल समारोह का मुख्य आकर्षण रहेंगे। जैसे ही जुलूस मेला प्रांगण में पहुंचेगा इसके साथ ही रंगारंग आतिशबाजी का कार्यक्रम प्रारंभ होगा और स्वरूपों के रूप में भगवान का भेष धरे हनुमान, राम और रावण के बीच जमकर युद्ध होगा और इसके बाद श्रीराम के हाथों अग्रिवाण से रावण का अहंकार मुख्य अतिथियों की उपस्थिति में चूर चूर किया जाएगा।

नृसिंह दरबार उत्सव समिति का निकलेगा जुलूस, होगा राम रावण युद्ध

सिद्धेश्वर मेला प्रांगण में रावण दहन के पश्चात काली माता मंदिर पर नृसिंह दरबार उत्सव समिति द्वारा रावण दहन का कार्यक्रम प्रारंभ किया जाएगा जिसका जुलूस नृसिंह मंदिर  से प्रारंभ होकर काली माता मंदिर प्रांगण पहुंचेगा जहां राम-रावण युद्ध के पश्चात रावण के पुतले को दहन किया जाएगा।

स्व. शिवगोपाल शिवहरे परमार्थ समिति का रावण दहन रहेगा आकर्षण का केंद्र

दोनों स्थानों पर रावण दहन के बाद भगवान सहस्त्रबाहु अर्जुन चौराहा हंस बिल्डिंग  न्यू ब्लॉक पर स्व. श्री शिवगोपाल शिवहरे परमार्थ समिति प्रतिवर्ष की तरह इस वर्ष भी रावण दहन का कार्यक्रम आयोजित करेगी। समिति  द्वारा 30 फीट के ऊंचे रावण का निर्माण कराया गया है जिसका दहन कल मंगलवार को समिति के अध्यक्ष डॉ. रामकुमार शिवहरे के हाथों किया जाएगा।

रावण दहन से पूर्व दहन स्थल पर रंगारंग और आकर्षक आतिशबाजी का कार्यक्रम होगा और विधि विधान से पूजा पाठ के पश्चात रावण के पुतले को आग लगाई जाएगी। दहन के बाद समिति द्वारा प्रसाद वितरण होगा और समिति के सदस्य एक दूसरे के गले लगकर दशहरे की शुभकामनाएं देंगे। इस कार्यक्रम के पश्चात हंस बिल्डिंग की वार्षिक बैठक आयोजित की जाएगी  जिसमें आगामी कार्यक्रमों की रूपरेखा के साथ मेल मिलाप किया जाएगा।