साइबर मामलों में फिसड्डी शिवपुरी पुलिस, ऑनलाइन ठगी की जांच खत्म नहीं होती | Shivpuri News

शिवपुरी। इंटरनेट के आने से कई काम बडे ही आसन हो गए। आनलाईन के क्षेत्र में बैकिंग ने काफी प्रगति की हैं। आनलाईन बैंकिग बढने पर आनलाईन अपराधो का ग्राफ भी बढ रहा हैं। इसके लिए पुलिस भी हाईटेक होते हुए साईबर पुलिस की एक अलन से ब्रांच बनाई गई हैं लेकिन शिवपुरी की साईबर ब्रांच हो रहे आनलाईन अपराधो को ट्रेस नही कर पा रही हैं या यू कह लो कि शिवपुरी की साईबर पुलिस अभी तक सबाईब नही कर पर पाई हैं। लगातार घट रही आनलाईन ठगी के केसो में पुलिस को कोई उल्लेखनीय सफलता नही हैं।

जिले में पिछले 15 दिनो में आनलाईन ठगी के 5 मामले सामने आए हैं पुलिस एक भी ठगी को ट्रेस नही कर सकी हैं ओर सैकडो आनलाईन ठगी के मामले पेंडिग पडे हैं,इसमें सबसे उल्लेखनीय यह हैं कि पुलिस ऐसे मामले में मामले दर्ज करने से कतराती हैं और जांच के नाम आवेदन ले कर पीडित को टरका देती हैं।

यह है पिछले 15 दिनो के ऑनलाइन ठगी के मामले

व्यापरी को लगा 2 लाख का चूना

14 और 15 सितंबर को गुड़-शक्कर व्यापारी राकेश कुमार गाेयल निवासी राघवेंद्र नगर शिवपुरी के खाते से किसी ने 20-20 हजार रुपए 10 बार में निकाल लिए। इसप्रकार उनके खाते से 2 लाख रुपए कम हो गए। 16 सितंबर वे झांसी तिराहा स्थिति एसबीआई में पहुंचे और अकाउंट ब्लॉक कराया। उन्होंने बैंक में लिखित शिकायत की, लेकिन अब तक कुछ नहीं हुआ।

टीशर्ट पडी 85 हजार की

बदरवास निवासी सक्षम गर्ग ने ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट फैक्ट्री क्लब से टी-शर्ट ऑर्डर की। करीब बीस दिन बाद 13 सितंबर को क फोन आया। फोन करने वाले ने सक्षम से कहा कि हमारी वेबसाइट ने आपको लकी विजेता चुना है। हम आपको टाटा सफारी गाड़ी लेना चाहते हैं। इसके लिए उससे 85 हजार रुपए टैक्स भरने को कहा गया। लालच में आकर सक्षम ने रुपए जमा करा दिए और ठगे गए।

ब्रजबिहारी को पता नही कब पैसे निकल गए

ब्रजबिहारी शर्मा पुत्र रामदयाल शर्मा निवासी कृष्णपुरम ने बताया कि 17 सितंबर को जितेंद्र सिंह पुत्र खेमचंद निवासी छतारा, हाथरस ने 38 हजार रुपए उनके खाते से ट्रांसफर कर लिए। वे एटीएम कार्ड का पिन बना रहे थे। 18 सितंबर को 20 हजार रुपए एटीएम से निकाले तो वे नहीं निकले। जब बैंक अधिकारियों से शिकायत की तो पता चला कि उनके खाते से पैसे निकाल लिए गए हैं।

मोबाईल पर कॉल आया और बैंक अकाउंट हक़ हो गया

2 सितंबर को करैरा के शासकीय शिक्षक हरिमोहन वंशकार के मोबाइल नंबर पर कॉल आया। कॉल करने वाले बताया कि उसके खाते से 20 हजार निकल गए हैं। तस्दीक किया तो मथुरा के एटीएम से यह रकम निकाली गई। 40 हजार रुपए किसी दूसरे खाते में ट्रांसफर हो गए। पुलिस अब तक मामले को ट्रेस नहीं कर सकी।

कृष्णपुरम निवासी अशोक सिंह बेडिया ने बताया कि उसे मोबाइल पर सूचना मिली कि उसके खाते से 90 हजार रुपए निकाल लिए गए। इसके बाद तुरंत बैंक को सूचना दी। इसके बाद खाते मेंं 10 हजार रुपए आ गए, लेकिन 80 हजार रुपए का अब तक नहीं मिले। घटना 1 और 2 नवंबर की है।

जाे मामले आए हैं,  हम उन्हें सर्चिंग करवा रहे हैं

झारखंड की तरफ के लोग ऐसी वारदात अधिक कर रहे हैं। ऐसा मामला आने पर हम तत्काल सीसीटीवी फुटेज जुटाकर कार्रवाई करते हैं। जिले में जो भी मामले आए हैं, उन्हें सर्च करवा रहे हैं। बैंकों से भी कहेंगे कि व एटीएम पर गार्डोें को तैनात रखें। लोगों से भी सावधानी बरतने की अपील करेंगे। राजेश सिंह चंदेल, एसपी, शिवपुरी