किसानों के साथ धोखा कर रही है मध्यप्रदेश सरकार: प्रदेश अध्यक्ष रावत | Shivpuri News

शिवपुरी। भाजपा ने कांग्रेस सरकार की लापरवाही पूर्ण रवैया बाढ़ पीड़ितों के मुआवजे एवं किसानों के मुद्दों को लेकर आज प्रदेश भर में धरना प्रदर्शन राज्यपाल के नाम ज्ञापन एवं एसडीएम कार्यालय का घेराव किया इसी क्रम में जिला शिवपुरी द्वारा जिले की पांचों विधानसभा में एसडीएम कार्यालय का घेराव किया गया। इसी क्रम में करैरा में एसडीएम कार्यालय के घेराव के दौरान पूर्व विधायक एवं किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष रणवीर सिंह रावत ने कहा कि प्रदेश में भय और भ्रष्टाचार के साथ सरकारी लापरवाही चरम पर पहुंच गई है।

किसानों के साथ सरकार धोखा कर रही है तथा बाढ़ की हालातों का जायजा कराने के बजाय प्रदेश सरकार के मुखिया कमलनाथ और उनके मंत्री मंत्रालय में बैठकर बयान जारी कर रहे हैं जबकि उन्हें क्षेत्र में उतर कर किसानों के आंसू पौछने चाहिए थे। प्रदेश सरकार तत्काल सर्वे कराकर सर्वे रिपोर्ट केंद्र सरकार की भेजिए तो केंद्र की मदद करने को तैयार है। भाजपा जिलाध्यक्ष सुशील रघुवंशी करैरा में कहा कि मध्य प्रदेश सरकार बाढ़ पीडि़तों के मामले में अपने राजधर्म का पालन करें इतनी अतिवृष्टि और बाढ़ की समस्या होने के बाद भी मुख्यमंत्री से लेकर मंत्री नेता अधिकारी अभी तक बाढ़ पीड़ितों की मदद को आगे नहीं आए हैं और ना ही उन्होंने अभी तक कोई राहत पैकेज दिया है लेकिन केंद्र पर राहत पैकेज में असहयोग और भ्रामक आरोप लगा रहे हैं।

शिवपुरी विधानसभा  में जिला महामंत्री ओमप्रकाश शर्मा के नेतृत्व में एसडीएम कार्यालय का घेराब किया ज्ञापन के दौरान पूर्व राज्यमंत्री राजू बाथम ने कहा कि मध्य प्रदेश के 52 जिलों में से 36 जिले में अत्यधिक वर्षा के कारण बहुत अधिक क्षति हुई है। मध्य प्रदेश के लाखों किसानों की फसल बारिश से चौपट हो गई है लेकिन कमलनाथ की सरकार ने आज तक फसल का सर्वे नहीं कराया है। आज पूरे मध्यप्रदेश में किसानों ने सरकारी दफ्तरों को घेरा है सरकार को हटाने की मांग की हैशासन को सर्वे रिपोर्ट तैयार करनी चाहिए।

कोलारस विधानसभा में भी विधायक वीरेंद्र रघुवंशी के नेतृत्व में धरना प्रदर्शन कर राज्यपाल के नाम ज्ञापन और एसडीएम कार्यालय का घेराव किया गया विधायक वीरेंद्र रघुवंशी ने संबोधित करते हुए कहा कि  केंद्र सरकार पूरे प्रदेश में बाढ़ पीडि़त लोगों की मदद के लिए तैयार है और हर संभव मदद करेंगे लेकिन पहले राज्य सरकार अपनी जिम्मेदारी तो निभाए श्री रघुवंशी ने कहा कि कांग्रेस को प्रदेश सरकार में बैठे लोग अपना घर भर रहे हैं सही मायने में उन्हें प्रदेश की जनता ही नहीं वे तो केवल लूट खसोट में लगे हैं जिस कारण अधिकारी भी बेलगाम हो गए और मंत्रियों तक की अनसुनी कर रहे हैं आप देखिए कितनी विडंबना है कि सरकार में मंत्री अपने ही नेताओं पर, नेता अपने मंत्री पर आरोप लगा रहे हैं फिर भी सरकार का मुखिया चुप है यह समझ में नहीं आता।

पिछोर विधानसभा में प्रीतम लोधी के नेतृत्व में एसडीएम कार्यालय का घेराव किया गया संबोधित करते हुए प्रीतम लोधी ने कहा कि मध्य प्रदेश की सरकार किसानों व आम जनता के साथ बदला लेने का काम कर रही है किसानों को ना ही भावंतर ना फसल बीमा अभी बाढ़ पीडि़तों के लिए किसी भी तरह का मुआवजा नहीं दिया। भाजपा कार्यकर्ताओं पर झूठे मुकदमे लादे जा रहे हैं  इस अवसर पर पांचों विधानसभाओं में जिले भर के सभी कार्यकर्ताओं ने सैकड़ों की संख्या में भाग लिया।

शिवपुरी में ज्ञापन के दौरान पूर्व विधायक ओमप्रकाश खटीक, विष्णु जैमिनी, ओमी जैन, अशोक खंडेलवाल, हेमंत ओझा, नवाब सिंह कुशवाह,  जडेल सिंह गुर्जर, भानु दुबे, डॉ राकेश राठौर, हरिओम राठौर, दिनेश रावत, केरन लोधी करैरा में अरविंद बेडर, जयप्रकाश सोनी, सुनील गुप्ता, धर्मेंद्र शर्मा , हेमंत शर्मा कोलारस में  विपिन  खेमरिया,  हेमपाल दांगी, रामू बिंदल, राधेश्याम बंसल, नन्नू सोनी, राम सरैया, जगदीश यादव, अजय रघुवंशी, पोहरी में पृथ्वीराज सिंह हरनारायण कुशवाह विवेक पालीवाल रामबाबू मंगल दिलीप मुद्गल शैलेंद्र शर्मा डॉक्टर हरिशंकर धाकड़ शुभम शर्मा पिछोर में सुनील लोधी भानु जैन बनवारी लाल श्रीवास्तव मनीष अग्रवाल दिवाकर अग्रवाल सहित हजारों की संख्या में भाजपा कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

जयस्तंभ चौहारा पोहरी पर दिया धरना, राज्यपाल के नाम सौंपा ज्ञापन

शुक्रवार को सम्पूर्ण मध्यप्रदेश में भारतीय जनता पार्टी द्वारा प्रदेश के किसानो के हितों के मुद्दों को लेकर विधानसभा स्तर पर धरना देकर कांग्रेस सरकार की वादाखिलाफी के विरोध में प्रदर्षन किया गया। इसी क्रम में पोहरी में जयस्तंभ चौराहे पर भाजपा के पूर्व विधायक प्रहलाद भारती के नेतृत्व में पोहरी, बैराड के मण्डल अध्यक्ष एवं पार्टी पदाधिकारियों, कार्यकर्ताओं द्वारा धरना दिया गया। इसके उपरांत किसानों की मांगों को पूरा करने हेतु राज्यपाल के नाम का ज्ञापन अनुविभागीय कार्यालय पोहरी में सौंपा गया।

कार्यक्रम के दौरान धरना दे रहे भाजपा के पूर्व विधायक प्रहलाद भारती ने कहा कि मध्यप्रदेश के अनेक जिलों में अतिवृष्टि के कारण किसानों की फसलें बर्वाद होगई हैं तथा कांग्रेस सरकार द्वारा किसानों की बर्वाद हुई इन फसलों के नुकसान के आंकलन हेतु अब तक कोई गंभीरतापूर्वक कार्यवाही नहीं किए जाने के कारण प्रदेष के किसानों में रोष की स्थिति है। धरने में सम्मलित कार्यकर्ताओं ने कहा कि प्रदेश सरकार आपदा प्रबंधन में नाकाम रहा है। जिसके चलते कई 32 जिलों में आई बाढ के कारण मवेशियों के बह जाने से उनकी मौत हो गई।

मध्यप्रदेश की सरकार द्वारा 02 लाख तक के कर्जे माफ किए जाने का बादा भी पूरा नहीं किया गया।भाजपा के धरना प्रदर्शन के दौरान पूर्व विधायक प्रहलाद भारती, जिला मंत्री पृथ्वीराज जादौन, मण्डल अध्यक्ष हरनारायण कुशवाह, मण्डल अध्यक्ष रामबाबू मंगल, डॉ तुलाराम यादव, डॉ हाकिम यादव, शैलेन्द्र शर्मा , शुभम शर्मा, दिनेष जाटव, आशुतोष जैमिनी, प्रकाश ग्वालिपुरा, नरोत्तम रावत, मुन्ना रावत, विश्मभर शर्मा, अभिषेक गुप्ता, कुलदीप शर्मा सहित अन्य कार्यकर्ता उपस्थित रहे।