आरोपी घर में घुसे और फरियादी की बेटियो को घर से धक्का देकर बहार निकला और हिटैची चढा दी: FIR के लिए जूझना पडा

शिवपुरी। खबर सिटी कोतवाली से आ रही हैं जहां एक कुशवाह समाज की महिला को अपनी रिर्पोट लिखाने के लिए समाज का इकठठा करना पडा,जब जाकर कोतवाली पुलिस ने मामला दर्ज किया। बताया जा रहा हैं कि पोहरी से बसपा के टिकिट पर चुनाव लडे कैलाश कुशवाह को अपने समर्थको के साथ कोतवाली आकर पुलिस से जुझना पडा जब जाकर यह मामला दर्ज किया गया।

कोतवाली पुलिस की लगातार ऐसी ही लापरवाही की खबरे आ रही हैं कही किसी आरोपी की टांगे तोड देती हैं,कोतवाली पुलिस से असतुंष्ट फरियादी जब एसपी शिवपुरी से मिलने की कहता तो उसे हवालात में बंद कर कूट दिया जाता हैं। महिला को मामला दर्ज कराने के लिए अपने समाज के लोगो के साथ आधे घंटे तक कोतवाली पुलिस से जूझना पडा।


जानकारी के अनुसार सिटी कोतवाली अंतर्गत आने वाली नबाव साहब रोड पर फरियादी द्रोपा कुशवाह पति रमेश कुशवाह का नबाब साहब रोड स्थित हनुमान मंदिर के सामने मकान निर्माण का कार्य चल रहा हैं और द्रोपा के देवर मनफूल कुशवाह का विवाद इसी मकान के बटबारे को चल रहा है।

फरियादी द्रोपा कुशवाह को पुलिस को बताया कि मेरा देवर मनफूल कुशवाह अपने साथी राहुल रावत,पंकज रावत,भाजपा नेता धर्मवीर रावत सोमवार की शाम 4 बजे मेरे घर हिटैची लेकर आए ओर घर में घुस गए ओर मेरी बेटिया पूजा कुशवाह,हेमलाता कुशवाह को गंदी—गंदी गालिया देते घर से बहार धक्का देते हुए निकाल दिया।

आरोपियो को रोकने का प्रयास किया तो उन्होने मेरी और मेरी बेटियो के साथ मारपीट कर दी।  
मेरे देवर मनफूल कुशवाह ने हिटैची लेकर मेरे निर्माणधाीन मकान की दीवाले गिरा दी। आरोपी के साथ आए उसके साथी कह रहे थे कि यह हिस्सा मनफूल कुशवाह का हैं इस पर तुम लोग मकान नही बना सकते।

फरियादी इस मामले की रिर्पोट लिखने कोतवाली आई कोतवाली पुलिस ने मामला दर्ज नही किया। धीरे—धीरे कुशवाह समाज के लोग कोतवाली में एकत्रित होने लगें। बताया जा रहा हैं बसपा नेता कैलाश कुशवाह अपने साथियो सहित कोतवाली आ पहुंचे ओर इनसे कोतवाली पुलिस की नोकझोक हुई। इसके बाद इस मामले में कोतवाली पुलिस ने भाजपा नेता धर्मवीर रावत सहित 4 लोगो पर मामला दर्ज किया हैं।

इस पूरे मामले में एक प्रश्न अवश्य खडा होता हैं कि कोतवाली पुलिस लगातर इस तरह के मामलो को लेकर चर्चाओ में रहती हैं कि एक कुटापिटा व्याक्ति कोतवाली में रिर्पोट कैसे लिखाए। कोतवाली पुलिस कही किसी की टांगे तोड देती हैं कही फरियादी को ही थाने में बंद कर कूट देती हैं। अगर ऐसे ही चलता रहा तो किसी दिन कोतवाली पुलिस की कार्यप्रणाली शहर की शांति व्यवस्था भंग हो सकती हैं।
 
भाजपा नेता का बेटा बोला- आरोप झूठे, पिताजी तो सूरत गए हैं
भाजपा नेता धर्मवीर रावत के बेटे राहुल रावत का कहना है कि हम पर आरोप रंजिशन लगाए गए हंै। दीवार हमने नहीं मनफूल ने तोड़ी है। मेरे पिता तो सूरत गए हैं और वहां से रात को ट्रेन से लौटकर आएंगे। पुलिस को हम सबके नाम झूठे लिखाए गए हैं।