11 लोगों से शुरू हुई भाजपा आज 18 करोड सदस्यों तक जा पहुंची: जशवंत हाड़ा

शिवपुरी। देश में अनेक राजनीतिक दल है, लेकिन सिर्फ भारतीय जनता पार्टी ही ऐसा राजनीतिक दल है जिसमें आंतरिक लोकतंत्र है यही कारण है कि मात्र 11 लोगों से शुरु हुई पार्टी आज 18 करोड़ सदस्यों तक जा पहुचीं है। आज भारत भाजपा की ओर आशा भरी निगाहों से देख रहा है। तो इसका कारण  हमारी विचारधारा और हमारा आंतरिक लोकतंत्र है। संगठन चुनाव भाजपा के इसी आंतरिक लोकतंत्र को मजबूत करता है और यही कारण है कि शीघ्र ही स्थानीय समिति से लेकर मंडल, जिला, प्रदेश संगठन के चुनाव होंगे। प्रत्येक मंडल में मंडल कार्यसमिति के साथ सात मोर्चों की कार्यसमिति बनेगी।  

ऐसे में प्रत्येक बूथ पर न्यूनतम तीन-चार सक्रिय सदस्य बनाए जाए ताकि उन्हें मंडल व मोर्चा की कार्यसमिति में स्थान दिया जा सके। यह बात भाजपा के जिलास्तरीय कार्यशाला में जिला निर्वाचन अधिकारी जशवंत हाड़ा ने कही। जिला कार्यशाला की शुरूआत पं. दीनदयाल उपाध्याय डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी और राजमाता जी के चित्र पर माल्यार्पण व दीप प्रज्वलन कर की। जिला कार्यशाला में जिला निर्वाचन अधिकारी जसवंत हाड़ा, पूर्व कैबिनेट मंत्री एवं शिवपुरी विधायक यशोधरा राजे सिंधिया, प्रदेश कार्यसमिति सदस्य ओमप्रकाश खटीक, सुरेंद्र शर्मा पूर्व विधायक प्रहलाद भारती, माखनलाल राठौर, देवेंद्र जैन, कामता प्रसाद बेमटे, रमेश खटीक, प्रीतम लोधी, सह निर्वाचन अधिकारी राजू बाथम के आतिथ्य एवं भाजपा जिलाध्यक्ष सुशील रघुवंशी की अध्यक्षता में जिला कार्यशाला संपन्न हुई।

जिला निर्वाचन अधिकारी पूर्व विधायक जशवंत हाड़ा ने निर्वाचन की जानकारी देते हुए बताया कि हमारे संगठन में आज भी हमारे नेता संगठन से ऊपर अपने आपको नहीं मानते है, इसलिए हमारा प्रदेश संगठन पूरे देश में आदर्श संगठन के नाम से जाना जाता है। हमारे संगठन के कार्यकर्ता देवदुर्लभ कार्यकर्ता है। संगठन पर्व के तीसरे चरण के अनुसार अब हमें संगठन निर्वाचन कार्यक्रम के अंतर्गत मतदान केन्द्र से लेकर मंडल, जिला, प्रदेश और राष्ट्रीय पदाधिकारियों का चयन करना है।

जिसमें हमें हमारे संगठन की रीति-नीति के अनुसार प्राथमिक सदस्य, सक्रिय सदस्य के आधार पर निर्वाचन करना है। इसके अंतर्गत हमें 22 से 28 सितम्बर तक मतदान केन्द्र अध्यक्ष समिति का गठन करना है, जिसमेंं हमें सभी वर्गो जैसे युवा वर्ग, महिला वर्ग का भी समावेश करना है। इसी क्रम में मंडल के चुनाव के पूर्व 50 प्रतिशत बूथ समिति बनने के बाद तथा 75 प्रतिशत बूथ अध्यक्ष का निर्वाचन पूर्ण होने के बाद मंडल अध्यक्ष 11 अक्टूबर से 31 अक्टूबर के बीच जिला निर्वाचन अधिकारी, जिला सहायक निर्वाचन अधिकारी और जिला अध्यक्ष से परामर्श के पश्चात मंडल अध्यक्ष निर्वाचन की तिथि जारी करेंगे।

इसके पश्चात मंडल समिति का गठन किया जाएगा। जिला अध्यक्ष सुशील रघुवंशी ने कहा कि संगठन पर्व के प्रथम चरण सदस्यता अभियान की सफलता के लिए आप सभी को हार्दिक शुभकामनाएं व बधाई, क्योंकि हमें संगठन की और से 1 लाख नये सदस्य जिले में बनाने के लिये लक्ष्य दिया था, हमने उसे पार करते हुए एक लाख से अधिक नये सदस्य बनाये है।

जिला संगठन  एवं कार्यक्रम प्रभारी राजेश दुबे ने संबोधित करते हुए कहा कि आने वाले समय में 1 सितम्बर से 30 सितम्बर तक संगठन की ओर से विभिन्न अभियान चलाऐं जायेंगे। जनजागरण अभियान यह अभियान दो प्रकार से पूरे देश में संपन्न होने जा रहा है पहला 35 ए से मुक्ति के उपलक्ष्य में देशभर में प्रबुद्धजनों की 35 बड़ी सभाएं होगी।  इसी प्रकार धारा 370 हटने के निमित्त देशभर में प्रबुद्धजनों की 500 से अधिक संख्या की लगभग 370 सभाएं होगी। घंटानाद आंदोलन 11 सितम्बर को पिछले 9 माह के कांग्रेस के कुशासन ने मध्यप्रदेश को बदहाली के कागार पर पहुंचा दिया है।

भारतीय जनता पार्टी के जिम्मेदारी विपक्ष होने के नाते अल्पमत की सरकार होने के बावजूद कांग्रेस को सकारात्मक दिशा में काम करने का भरपूर अवसर दिया है, लेकिन प्रदेश की वर्तमान सरकार का कोई सरोकर इस प्रदेश के विकास और प्रगति के साथ नहीं हैं। इसके ठीक विपरीत 9 माह में प्रदेश का हर वर्ग भीषण समस्यांओं से ग्रस्त है। 

किसान का कर्ज माफ नहीं हुआ, किसान सम्मान निधि का पैसा मध्यप्रदेश के किसानों को नहीं मिलने का षडयंत्र, उल्टे उन्हें डिफाल्टर घोषित करवा दिया है, किसान खाद बीज के लिये भी तरस गया है, बिजली की समस्यां, सड़कों की बेहाली, अवैध खनन, प्रदेश के बेरोजगार युवाओं को बेरोजगारी भत्ता के नाम पर छलावा, तबादला उद्योग का सृजन, गरीबों को अन्त्योष्ठी के लिये 5 हजार रूपये दिये जाते थे वह बंद हो चुके है तथा गरीब बेटियों के विवाह से मिलने वाली राशि भी प्रदेश की भ्रष्ट सरकार ने जनकल्याणकारी योजनाओं के साथ-साथ बंद कर दी है।

पार्टी कांग्रेस के जंगलराज के खिलाफ आर-पार की जंग का शंखनाद कर रही है। सुरेन्द्र शर्मा ने कहा कि देश में बहुत सारे राजनैतिक दल है, लेकिन हमारे संगठन में ही आंतरिक लोकतांत्रिक प्रणाली का चयन किया जाता है। जिसके अंतर्गत मतदान केन्द्र से लेकर राष्ट्रीय स्तर तक के संगठन पदाधिकारी का चयन किया जाता है। कार्यशाला का संचालन महामंत्री ओमप्रकाश शर्मा ने किया एवं आभार अशोक खण्डेलवाल ने किया।