उफनते नाले में 1 युवक बह गया, मडीखेड़ा: 8 गेट खुले हैं, पढिए सिंध नदी का परिचय

शिवुपरी। लगतार हो रही बारिश के कारण जिले के नदी-नालो में उफान पर हैं। सिंध ने अपना रौंद्र रूप धारण कर लिया हैं। कोलारस क्षेत्र में सिंध ताडंव कर रही हैं। इसी ताडंव के कारण पचावली का पुल ने पिछले दो दिन से जलसमाधि ले रखी है। वही खबर आ रही हैं कि कोलारस क्षेत्र में एक उफनते नाले में डूबने से एक युवक की मौत हो गई हैंं

यह सिंध नदी का परिचय

विदिशा जिले की लटेरी तहसील से सिंध नदी मप्र का उद्गम है। गुना, शिवपुरी, दतिया और भिण्ड जिलों में यात्रा करती हुई चम्बल में समा जाती हैं। सिंध नदी 417 किमी की यात्रा करती हैं। जिले का मडीखेडा डेम सिंध नदी के प्रचंड वेग को रोकता है। जिले में कोलारस अनुविभाग क्षेत्र को सबसे ज्यादा तांडव करती हैं। और नरवर क्षेत्र में फसलो की जननी का काम करती हैं।

जानकारी के अनुसार सिंध नदी में उफान के चलते 12 सितंबर की रात 10 बजे से पचावली पुल डूब गया था। 13 सितंबर को सिंध नदी पुल के ऊपर से बहती रही। अब 14 सितंबर की रात 8.30 बजे सिंध नदी में पानी का बहाव कम हुआ और पुल से नदी 2 फीट नीचे बहना शुरू हुई है। वहीं सिंध नदी से लगे लालापुर गांव में शनिवार को नाले में डूब जाने से युवक की मौत हो गई है।

पोहरी क्षेत्र के 10 से ज्यादा गांवों का कस्बे से संपर्क टूटा

पोहरी अनुविभाग में कूनो नदी के साथ बिलौआ नाले में भी उफान है जिससे 10 से ज्यादा गांवों का संपर्क टूट गया है। कूनो में उफान की वजह से बिलौआ, बागलौन, हिनौतिया, गल्थुनी, श्यामपुर, तिघरा आदि गांवों का शुक्रवार से छर्च कस्बे से संपर्क टूट गया था। शनिवार को बिलौआ नाले में भी उफान आ गया है जिससे अब छर्च कस्बे का पोहरी अनुविभाग मुख्यालय से संपर्क टूट गया है। अन्य वाहनों के साथ बसें भी छर्च नहीं जा सकीं।

इस सीजन में 8 बार खोल चुके हैं मड़ीखेड़ा के गेट

सिंध नदी छह बार उफान पर आ चुकी है। इस बीच करीब आठ बार बांध के गेट खोलना पड़े हैं। चूंकि मड़ीखेड़ा बांध सिंध नदी पर बना है। सिंध नदी की उद्गम विदिशा की लटेरी तहसील से है। इस बीच गुना और अशोकनगर जिले के छोटी नदियां व नाले सिंध नदी में आकर मिलते हैं। तीनों जिलों में ज्यादा बारिश होने से सिंध नदी में बार-बार उफान आ रहा है। सिंध नदी का पचावली पुल इस बार लगातार 45 घंटे तक डूबा रहा। जिससे देहरदा-ईसागढ़ मार्ग पूरी तरह बाधित रहा।

सुबह तक 20.77 मिमी औसत बारिश

शिवपुरी जिले में शनिवार की सुबह 8 बजे तक 20.77 मिमी औसत बारिश दर्ज की गई है। दिन में भी पूरे जिले में बारिश का सिलसिला जारी रहा। अभी तक जिले में कुल औसत बारिश 741.43 मिमी हो चुकी है। इसी के साथ औसत पूरी होने के लिए अभी 9% बारिश की और जरूरत है। हालांकि पिछले साल से इस बार कम बारिश दर्ज हुई है।

नाला पार करते वक्त युवक की डूबने से मौत

पचावली के नजदीक लालपुर गांव में युवक गुलशन (18) पुत्र रज्जू जाटव की नाले में डूबने से शनिवार को मौत हो गई है। सिंध नदी में उफान की वजह से गांव के मुख्य नाले में पानी थमकर रह गया है। मृतक गुलशन खेत से वापस लौट रहा था। नाला पार करते समय गहराई का अंदाजा नहीं लगा पाया। तैरना नहीं आने की वजह से गुलशन की डूबने से मौत हो गई। बाद में माखन जाटव के खेत में युवक की लाश पड़ी मिली। रन्नौद थाना पुलिस ने मर्ग कायम कर मामला जांच में ले लिया है।