पेट की कीड़े मारने वाली गोली खाने से जैक एंड जिल स्कूल के बच्चो की बिगड़ी हालत | SHIVPURI NEWS

शिवुपरी। पेट की कीड़े मारने वाली गोली खाने से जैक एंड जिल स्कूल के बच्चों की हालत बिगडने लगी। स्कूल संचालक ने जब बच्चो की हालत देखी तो डाक्टरो की टीम को बुलाया। बच्चो ने पेट दर्द की शिकायत की डाक्टरो की टीम ने जब बच्चों को ओआरएस का घोल और दवा पिलाई, तब कहीं जाकर बच्चों को दर्द में राहत मिली। 

जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एनएस चौहान ने बताया कि जैक एंड जिल स्कूल से गुरुवार की दोपहर में उनके पास फोन आया कि स्कूल में बच्चों की हालत बिगड़ गई है। जब वे मौके पर टीम के साथ पहुंचे तो वहां 5 बच्चों को तकलीफ थी।

इन पांच बच्चों को देखकर अन्य बच्चे भी पेट दर्द की शिकायत करने लगे जबकि अन्य बच्चों को कोई तकलीफ नहीं हुई। स्कूल में 5 छात्र-छात्राओं को ओआरएस का घोल पिलाया, तब कहीं जाकर हालत में सुधार हुआ। डॉ. चौहान के अनुसार, इनमें से एक बच्चे को पहले से पेट में दर्द था जबकि शेष बच्चे देखा-देखी दर्द की बात कहने लगे।

इसके बाद तकरीबन एक घंटे टीम के सदस्य स्कूल में ही बैठे रहे। जब बच्चों की शिकायत आना बंद हुई तब टीम रवाना हुई। वहीं स्कूल संचालक जहार सिंह रावत का कहना था कि प्रशासन के निर्देश पर बच्चों को गोली खिलाई जा रही थी। जब 2-3 बच्चों ने पेट दर्द शिकायत की तो हमने शेष बच्चों को वह दवा नहीं दी। अब अफसरों का कहना है कि जो बच्चे छूटे हैं, उनको 13 अगस्त को मॉपअप कार्यक्रम के तहत गोली खिलाई जाएगी।