ऑटो चालक सवारी से लूट ले गया मोबाइल और दस्तावेज | SHIVPURI NEWS

शिवपुरी। अभी हाल ही में शहर में स्मैक के कारण हुई शिवानी की मौत का मामला ठंडा नहीं हुआ कि पुलिस की कार गुजारी एक बार फिर सामने आई है। जिसमें पुलिस ने मोबाईल की लूट की शिकायत करने पहुंचे फरियादी को थाने से भगा दिया। शिवानी बाले मामले में अगर पुलिस परिजनों की शिकायत के समय ही सक्रिय हो जाती तो शहर में यह हादसा नहीं होता। लेकिन पुलिस महज बसूली में व्यस्त है। जबकि आरोपी खुलेआम घटनाओं को अंजाम देकर फरार हो जाते है। ऐसा ही मामला अब शहर के व्यस्तम चौराहे गुरूद्धारे के पास से आ रहा है। जहां एक आॅटो चालक ने ऑटो में बैठकर जा रही एक सबारी के साथ लूटपाट की बारदात को अंजाम दिया है।

जानकारी के अनुसार मोहनी सागर निवासी कृष्णपाल दोहरे पुत्र रामसेवक दोहरे गत दिवस श्रीराम टाॅकीज के पास से अपने घर मोहनी सागर जाने के लिए एक ऑटो में सवार हुआ था, ऑटो में पहले से ही एक व्यक्ति सवार था, ऑटो चालक जैसे ही झांसी तिराहा के समीप आईसीआईसीआई बैंक के समीप पहुंचा तो उसने अपना ऑटो बैंक के समीप रोककर कृष्णपाल दोहरे के साथ मारपीट शुरू कर दी और उसके पास से उसका विवो कम्पनी का 23 हजार रूपए कीमत का मोबाइल लूट लिया।

कृष्णपाल का कहना है कि मोबाइल के साथ उसके महत्वपूर्ण दस्तावेज भी जिन्हें भी छीन लिया गया। हमलावर जाते जाते कृष्णपाल को जान से मारने की धमकी भी दे गए। कृष्णपाल ने इस घटना की जानकारी पहले देहात पुलिस को दी मगर देहात पुलिस ने घटना कोतवाली की सीमा में घटित होना बताया जिसके बाद कृष्णपाल कोतवाली पहुंचा मगर वहां कोतवाली पुलिस ने उसका आवेदन लेकर खानापूर्ति कर ली और आज तक इस मामले में प्राथमिक दर्ज नहीं हुई है।

कृष्णपाल का कहना है कि घटना के बाद से कई दिन तक मेरा मोबाइल चालू रहा मगर मैंने पुलिस से कई बार कार्यवाही को कहा लेकिन मेरी कोई सुनवाई नहीं हुई। लुटे पिटे कृष्णपाल दोहरे का कहना है कि इस पूरे मामले की शिकायत अब मैं पुलिस अधीक्षक से करूंगा जिससे मेरा कीमती मोबाइल और महत्वपूर्ण दस्तावेज वापस मिल सकें।