Ads 720 x 90

बडी खबर: घर में रिश्वत वसूल रहा मुकेश पटवारी गिरफ्तार | Shivpuri News

शिवुपरी। अभी-अभी खबर आ रही हैं कि ग्वालियर की लोकायुक्त पुलिस ने नबाब साहब रोड पर रहने वाले पटवारी को उसके ही घर रिश्वत लेते रंगे हाथो दबौच लिया है। बताया जा रहा था कि उक्त पटवारी एक किसान की जमीन का सीमाकंन लगातार टाल रहा था और अंत में उसने रिश्वत की मांग कर ली। सीमाकंन के इसी रिश्वत को लेते आज पटवारी धरा हो गया।

जानकारी के अनुसार फरियादी मोहन सिंह भदौरिया पुत्र हिमाचल सिहं भदौरिया निवासी महाराणा प्रताप नगर शिवपुरी की ग्राम राजा की मुढेरी में  पुस्तैनी जमीन है। फरियादी मोहन ने अपनी जमीन के सीमाकंन के लिए आवेदन दिया था,लेकिन मुढेरी हल्के के पटवारी मुकेश धाकड इस सीमाकंन को टाल रहे थें।

अंत में पटवारी ने सीमाकंन करने के ऐवज में 8 हजार की मांग करते हुए रिश्वत की रकम को तय किया। बताया जा रहा है कि फरियादी ने 6 हजार रू की रकम पूर्व में दे दी,लेकिन पटवारी फिर भी सीमाकंन में टालटोल कर रहा था। फरियादी ने उक्त पूरे मामले की शिकायत लोकायुक्त एसपी को कर दी।

लोकायुक्त एसपी ने इस मामले को लेकर अपना एक सिपाही फरियादी के साथ भेजा लेन-देन की बातचीत रिर्काडिगं करने भेजा। बताया जा रहा है कि फरियादी फिर एक बार और पटवारी के पास पहुंचा और अपने सीमाकंन की बातचीत करने लगा। पटवारी ने कहा कि बाकी की शेष रकम 2 हजार रूपए और दो,उसके बाद ही सीमाकंन होगा।

रिश्वत की रकम को आज देना तय हुआ था। पटवारी और फरियादी की रिश्वत से भरी रिर्काडिंग के आधार पर ग्वालियर की लोकायुक्त पुलिस ने कार्यवाही करते हुए पटवारी को रंगेे हाथो पकडने की योजना बनाई। और तय शुदा वक्त और समय पर लोकायुक्त पुलिस शिवपुरी पहुंच गई।

बताया गया है कि रिश्वत आज शाम पटवारी के नबाब साहब रोड पर स्थित मकान पर देना तय हुआ। फरियादी 500-500 के कैमिकल से रंगे 4 नोट लेकर पटवारी के पास गया और और उसे कैमिकल से रंगे नोट दिए। जैसे ही पटवारी ने अपने हाथो में नोट लिए वैसे ही फरियादी ने लोकायुक्त की बाहर खडी टीम को अपने मोबाईल से इशारा कर दिया।

इशारा पाते ही ग्वालियर से शिवपुरी आई लोकायुक्त् की टीम ने पटवारी को दबौच लिया और उसके हाथ धुलवाए तो नोटो पर लगा कलर उसक हाथो को रंगने लगा। खबर लिखे जाने तक लोकायुक्त की टीम अपनी कागजी कार्रवाई में लगी थी।

यह थी लोकायुक्त की टीम

निरिक्षक पीके चतुवेर्दी,राजीव गुप्ता एसआई विकादीप गुप्ता,सुरेश कुशवाह प्रधान आरक्षक विनोद छारी आरक्षक संतोष परिहार,जसबंत शर्मा,हेमंत शर्मा,बलवीर सिंह और सुनील सिंह सागर थे ।